स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रेवाडि़यों में बिराजे देव, स्नान कर पहुंचे देवालय, दर्शनार्थ उमड़े श्रद्धालु

Moola Ram Choudhary

Publish: Sep 10, 2019 17:34 PM | Updated: Sep 10, 2019 17:34 PM

Barmer

- गांवाई तालाबों में श्रद्धालुओं ने किया गजानंद प्रतिमाओं का विसर्जन

बालोतरा. नगर, क्षेत्र में सोमवार को देवझूलनी एकादशी पर्व श्रद्धापूर्वक मनाया गया। दोपहर बाद मंदिरों से गाजे-बाजे से रेवाडिय़ां रवाना हुई। रेवाडिय़ों को सजा-धजा कर आकर्षक तैयार किया। इसके बाद इसमें ठाकुरजी की प्रतिमाओंं को विराजित किया। जयकारे लगाते व भजन गाते हुए श्रद्धालु रवाना हुए। बालोतरा के लूणों का चौक रघुनाथ मंदिर से सर्वप्रथम रेवाड़ी रवाना हुई।

इसके बाद रघुनाथ मंदिर, महालक्ष्मीजी मंदिर, लालजी का मंदिर, सत्यनारायण मंदिर, सैनजी महाराज मंदिर, वनु माता मंदिर, मुख्य हनुमान मंदिर, पालीवाल समाज रघुनाथजी मंदिर, वनखंडी महादेव मंदिर, रामदेव मंदिर रामदरबार, मोहनरायजी मंदिर, जानरायजी मंदिर आदि मंदिरों से रेवाडि़यां रवाना हुई। कंधों पर रेवाडिय़ां उठाए जयकारे लगाते हुए श्रद्धालु चल रहे थे। वृंदावन गार्डन में सभी रेवाडिय़ों को विराजित किया गया। पुजारियों ने ठाकुरजी की प्रतिमा को विधि-विधान से नहलाया।

नए कपड़ों, फूलों से आकर्षक शृ़ंगार किया। सभापति रतनलाल खत्री, उपखंड अधिकारी रोहित कुमार, नगर परिषद आयुक्त रामकिशोर ने रेवाडिय़ों के दर्शन किए। इसके बाद रैवाडिय़ां नया चोंच मंदिर पहुंची। इन्हें यहां विराजित कर पुजारी गजेन्द दवे ने आरती उतारी श्रद्धालुओं ने दर्शन पूजन किए। इसके बाद रेवाडिय़ां निज मंदिरों के लिए रवाना हुई। वहीं, खेड़ गांव स्थित रणछोड़ राय भगवान मन्दिर से ठाकुर जी पालकी में सजी रेवाड़ी निकाली। भैरव तालाब पर ठाकुरजी को स्नान करवाने की रस्म अदा की गई। इस दौरान भजन गायकों ने भजनों की प्रस्तुतियां दी।

सिवाना. कस्बे के सदर बाजार से ठाकुरजी महाराज की सुसज्जित शोभायात्रा ढोल नगाड़ों के साथ रवाना हुई। शोभायात्रा में विभिन्न देवी देवताओं की सुसज्जित झांकियां आकर्षक का केंद्र रही। जगह-जगह शोभायात्रा का लोगों ने स्वागत किया। शोभायात्रा में मधुर भजनो की धुनों पर श्रद्धालु झूमते नाचते गाते चल रहे थे। युवाओं ने हैरतअंगेज प्रदर्शन कर लोगों को अचंभित किया। शोभायात्रा कस्बे के बस स्टैंड, ग़ांधी चौक, मोकलसर रोड, पादरू रोड, नया कुआं रोड होते हुए पुन: सदर बाजार पहुंची। पोल के अंदर ठाकुरजी मन्दिर एवं चारभुजा मन्दिर में ठाकुरजी महाराज की पूजा-अर्चना के साथ महाआरती कर प्रसादी चढ़ाई गई।

समदड़ी. कस्बे में शाम को विभिन्न समाजों की ओर से आराध्य देव के मंदिरों से भगवान की रेवाडिय़ां निकाली। सभी का संगम जीनगरो के वास पर हुआ। हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैया लाल की... जैसे जयकारो व भजन कीर्तन से साथ सभी रेवाडिय़ां को निम्बड़ी बालाजी मेला मैदान ले जाकर प्रतिमाओं को नहलाया गया। इसके बाद नीम्बड़ी बालाजी परिसर के आगे मेला मैदान में सभी देवताओं का विधिविधान से पूजन आरती कर प्रसादी का भोग लगाया गया। पारलू, जेठन्तरी, भलरो का बाड़ा सहित आसपास के गांवो में भी रेवाडिय़ा निकालकर देवताओ को नहलाया गया।

जसोल. कस्बे में कन्हैयालाल जी मन्दिर पर पूजा अर्चना के बाद अखण्ड सनातन हिन्दू समाज के तत्वावधान में शोभायात्रा का जुलूस निकाला गया। शोभायात्रा में सभी समाजों के लोगों ने भाग लिया। जुलूस कन्हैयालालजी मन्दिर से रवाना होकर आज़ाद चौक, घांचियों का वास, होली चौक, तालाब रोड़ होते हुए नर्मदेश्वर तालाब पहुंचा। वहां ठाकुरजी को अमृतमय पानी से नहलााया गया। कन्हैयालालजी मन्दिर पहुंचने के बाद पुजारी शंकरदास ने ठाकुरजी की महाआरती की।

पाटोदी. कस्बे के जीनगरों का वास, सोनारो का वास, रावणा राजपूतों का वास सहित जगह-जगह पर विराजित गणेश प्रतिमा सोमवार को भक्तजनों ने जयकारों के साथ विसर्जन किया। इस तरह रेवाड़ी देव झुलनी एकादशी पर ठाकुरजी मंदिर पर कार्यक्रम हुआ।

थोब. गांव में महंत श्यामदास महाराज के सान्निध्य में ठाकुरजी महाराज की रेवाड़ी निकाल स्नान करवाया गया। इस दौरान तालाब में गणपति प्रतिमाओं का विर्सजन किया गया। इस अवसर पर पंडित अरुण दवे, पुरुषोत्तम दवे, एडवोकेट वीरमसिंह आदि ग्रामीण मौजूद थे।

मोतीसरा. गांव के आम चौहटे स्थित ठाकुरजी के मंदिर में श्रीकृष्ण की पालकी यात्रा निकाली गई। जिसमे बड़ी संख्या ग्रामीणों ने भाग लिया। ठाकुरजी की पालकी गांवाई तालाब पर संत छगनदास ने स्नान करवाया। इस अवसर पर उपसरपंच शैतानसिंह डाबली, पाताराम आदि मौजूद थे।

मोकलसर/मायलावास. सोमवार को देवझूलनी एकादशी पर गांव में ठाकुरजी भगवान की रेवाड़ीं निकाली गई।मायलावास गांव के ठाकुरजी मन्दिर और राजपुरोहित समाज के ठाकुरजी मन्दिर से गांव के चौहटे पर बनी पेयजल टंकी तक रेवाड़ी निकाली गई। इसके बाद ठाकुरजी भगवान को स्नान करवाया गया। ग्रामीणों ने ठाकुरजी की रेवाड़ी से नीचे होकर गुजरकर अच्छे भविष्य की कामना की।

कल्याणपुर. कस्बे के चौधरियों का बास में गणपति नवयुवक मंडल की ओर से स्थापित गणपति प्रतिमा का विसर्जन सोमवार को भियानाडी तालाब में किया गया।

गणपति की पूजा अर्चना कर शोभायात्रा रावला चौक, भील बस्ती, बालिका विद्यालय, नाइयों का बास, चौधरियों का बास, जैन मोहल्ला, देवासियों का बास, मुख्य बाजार, समदड़ी चौराया होते हुए भियानाडी तालाब जाकर विसर्जित की गई। दौलाराम कुआं, जुगराज सुथार, जेरूप पटेल, गोकलराम बोका, जितेन्द्र पटेल, जीवराज भाटी सहित कार्यकर्ता मौजूद थे।