स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अवकाश के बावजूद मनाएंगे राष्ट्रीय एकता दिवस, शिक्षक दे सकेंगे कहीं भी ड्यूटी

Moola Ram Choudhary

Publish: Oct 28, 2019 14:04 PM | Updated: Oct 28, 2019 14:04 PM

Barmer

अवकाश के बावजूद मनाएंगे राष्ट्रीय एकता दिवस, शिक्षक दे सकेंगे कहीं भी ड्यूटी

- सरदार वल्लभ भाई पटेल की 144वीं जयंती व इंदिरागांधी की पुण्यतिथि
- एकता दौड़ सहित कई कार्यक्रम

बाड़मेर. 31 अक्टूबर को प्रदेश के विद्यालयों में राष्ट्रीय एकता दिवस का आयोजन होगा। यह आयोजन लोह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती को लेकर है। इधर, स्कूलों में दीपावली का अवकाश चल रहा है। एेसे में सरकार ने शिक्षकों को संबंधित स्कूल की जगह अपने नजदीकी विद्यालय में ड्यूटी देने की छूट दी है।

हालांकि विद्यार्थियों की उपस्थिति अनिवार्य होगी, क्योंकि विभिन्न प्रतियोगिताएं होनी है।
विशेष असेम्बली का आयोजन- पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरागंाधी की पुण्य तिथि भी इसी दिन है। इसको लेकर विद्यालयों में

सरदार वल्लभ भाई पटेल की 144वीं जयंती 31 अक्टूबर को है। इस दिन विद्यालयों में राष्ट्रीय एकता दिवस का आयोजन होगा। अधिकतम शिक्षकों व विद्यार्थियों की भागीदारी के साथ विद्यालयों में एकता दौड़, प्रभात फेरी, निबंध, वाद-विवाद आदि प्रतियोगिताएं आयोजित की जानी है।

वहीं शिक्षकों व विद्यार्थियों को एकता की शपथ दिलाई जाएगी। इसमें इंदिरागांधी का देश को लेकर योगदान व बलिदान को लेकर विद्यार्थियों को जानकारी दी जाएगी।

शिक्षकों को कहीं भी डयूटी की छूट-

गौरतलब है कि विद्यालयों में दीपावली का अवकाश चल रहा है। एेसे में अवकाश के दौरान कार्यक्रम करवाना है और शिक्षक विशेषकर बाहरी जिलों के शिक्षक घर गए हुए हैं, इस पर उनको वापिस विद्यालय आने में छूट दी गई है। वे अपने घर के आसपास के विद्यालय में ही डयूटी दे सकेंगे। उनको इसकी सूचना

सीबीइओ, जिशिअ (मुख्यालय) प्रारम्भिक/माध्यमिक के माध्यम से मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी को देनी होगी। संस्था प्रधान, जो स्वयं विद्यालय के मुख्यावास से अन्यत्र है, वे अपना विद्यालय खोलने के साथ उक्त कार्यक्रम आयोजित करवाना सुनिश्चित करेंगे।

[MORE_ADVERTISE1]