स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

खेलते-खेलते सो गया मासूम, परिजन के प्राण सूखे, पुलिस की परेड

Mahendra Trivedi

Publish: Aug 22, 2019 18:59 PM | Updated: Aug 22, 2019 18:58 PM

Barmer

- घर में ही ऊपर के कमरे में सो गया मासूम, घर वालों ने मौहल्ला छान मारा
- तीन घंटे बाद नींद से जगा तो सब की आई जान में जान

बालोतरा. शहर के बाड़मेर कलेण्डर रोड स्थित एक मकान में बुधवार को पांच साल का मासूम खेलते-खेलते ऊपर के कमरे में जाकर सो गया और बाहर से किसी ने कुंडी लगा दी। परिजन ने उसे घर में ढूंढने के बाद पूरा मौहला छान मारा लेकिन उसका कहीं पता नहीं चला।

कई लोगों ने उसके अपहरण के कयास लगाए। मासूम के गायब होने की सूचना पर पुलिस ने भी वहां पहुंच पूरे घर सहित आस-पास के घरों में बने टांके तथा सीसीटीवी फुटज खंगाले लेकिन वह कहीं नहीं मिला। आखिर मासूम की नींद खुली तो वह कमरे में रोने लगा, इस पर लोगों ने दरवाला खोला तो सभी के जान में जान आई। इस दौरान मौके पर बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए।

प्रजापत समाज भवन के समीप रहने वाले रमेश प्रजापत के परिवार के सदस्य रोज के कार्यों में व्यस्त थे। दोपहर 2.30 बजे पांच वर्षीय भावेश दिखाई नहीं दिया तो उन्होंने ढूंढना शुरू किया। कुछ ही समय में पूरे मौहल्ले व शहर में यह समाचार फैल गया। इससे घर व इसके आस पास बड़ी भीड़ एकत्र हो गई।

दरअसल भावेश परिवार के अन्य बच्चों के साथ खेलता हुआ उपरी मंजिल पर बने कमरे में पलंग व कूलर के बीच खाली स्थान के बीच खेलते खेलते सो गया। परिवार के सदस्यों ने आनन-फानन में इस कमरे की भी तलाशी ली, लेकिन भावेश नजर नहीं आया।

इस दौरान किसी ने कमरे की कुण्डी लगा दी। शाम करीब 5.30 बजे वह नींद से जगा तो बंद दरवाजा नहीं खुला तो वह रोने लगा। आवाज सुनकर लोगों ने उसे बाहर निकाला।