स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मुख्यमंत्री ने देखा 3 डी मॉडल, 02 घंटे रुके रिफाइनरी स्थल

Dileep Kumar Dave

Publish: Nov 05, 2019 00:12 AM | Updated: Nov 05, 2019 01:21 AM

Barmer

पचपदरा में निर्माणाधीन रिफाइनरी के कार्यों का सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अवलोकन किया, साथ ही उन्होंने रिफाइनरी के 3 डी मॉडल को देखा तथा समझा।

बालोतरा पत्रिका.
पचपदरा में निर्माणाधीन रिफाइनरी के कार्यों का सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अवलोकन किया, साथ ही उन्होंने रिफाइनरी के 3 डी मॉडल को देखा तथा समझा। मुख्यमंत्री के साथ राजस्व मंत्री हरीश चौधरी व खान मंत्री प्रमोद जैन थे। 3.23 बजे रिफाइनरी स्थल पर पहुंचे। यहां पर जिले के कांग्रेसी विधायक, जनप्रतिनिधियों व कार्यकर्ताओं ने कतारबद्ध खड़े होकर मुख्यमंत्री का स्वागत किया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने हेलीपेड के पास शामियाने में लोगों से मुलाकात कर उनसे समस्याएं सुनी। इसके बाद मुख्यमंत्री हेलीपेड से एचपीसीएल की साइट ऑफिस के लिए रवाना हो गए। साइट ऑफिस में मुख्यमंत्री ने रिफाइनरी के 3डी मॉडल को करीब 20 मिनट तक देखा व समझा।

आरटीआई कार्यकर्ता के परिजनों ने की मुलाकात-
करीब एक माह पूर्व पचपदरा थाना पुलिस की हिरासत में मरे आरटीआई कार्यकर्ता जगदीश गोलिया की माता व रिश्तेदारों ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को विभिन्न मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि 6 अक्टूबर को जगदीश गोलिया की पुलिस हिरासत में मौत हो गई। पचपदरा पुलिसथाने में हत्या का मामला दर्ज है, लेकिन मामले में पुलिस ने केवल दो जनों को गिरफ्तार किया। अन्य सभी दोषियों की अतिशीघ्र गिरफ्तारी की जाएं। मृतक की पत्नी को सरकारी नौकरी दी जाएं व उचित मुआवजा दें। इस मुख्यमंत्री ने उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया।

खान प्रभावितों ने बताई बात

जैसलसिंह खारवाल, पारसमल खारवाल, धनराज खारवाल, महेश खारवाल समेत खारवाल समाज के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपकर बताया कि रिफाइनरी से नमक उत्पादन की 198 खानें प्रभावित हुई। सरकार उन खानों का पुन: विस्थापन कर रही है, लेकिन नमक उत्पादन के लिहाज से उन खानों की गहराई को 13 फीट किया जाएं। वर्ष 2013 से नमक उत्पादन बंद होने से नमक उत्पादकों को हुए नुकसान की भरपाई की जाएं। प्रभावित नमक उत्पादक परिवारों के सदस्यों को रिफाइनरी में स्थाई रोजगार दिया जाएं।

विभिन्न ज्ञापन

सांभरा सरपंच गुमानसिंह वेदरलाई, ग्रामीण पदम विश्रोई ने पानी, सड़क व विभिन्न समस्याओं को लेकर मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा। रिफाइनरी एरिया पर्यावरण एवं कामगार संरक्षण संस्थान के पदाधिकारी आईदानराम गोदारा, दौलतराम गोदारा, हेमंत भाटिया, प्रहलादराम धतरवाल ने मुख्यमंत्री को विभिन्न मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि रिफाइनरी में स्थानीय लोगों को रोजगार में प्राथमिकता दी जाएं। भारतीय किसान संघ के अखाराम चौधरी व किसानों ने मुख्यमंत्री को क्षेत्र की लूनी नदी में बड़े स्तर पर अवैध बजरी खनन को लेकर शिकायत की। किसानों ने खरीफ2018 का बीमा क्लेम दिलाने की मांग की।

ये थे मौजूद- कार्यक्रम में शिव विŠाायक अमीन खां, बाड़मेर विŠाायक मेवाराम जैन, बालोतरा विŠाायक मदन प्रजापत, चौहटन विŠाायक पदमाराम मेƒावाल, जिला प्रमुख प्रियंका मेƒावाल, वरिष्ठ नेता ब्रदीराम चौŠारी, महंत निर्मलदास महाराज, पूर्वआयोग अŠयक्ष गोपाराम मेƒावाल, पूर्व आयोग अŠयक्ष गफूर अहमद, कांग्रेस जिलाŠयक्ष फतेह खां, प्रदेश कांग्रेस कमेटी सचिव शम्मा बानो, पाटोदी प्रŠाान रशीदा बानो, गिड़ा प्रŠाान लक्ष्म‡ा डेलू, कांग्रेस जिला कोषाŠयक्ष नरेश ढेलडिय़ा, Žलॉक कांग्रेस कमेटी बालोतरा अŠयक्ष भगवतसिंह जसोल, सेवादल प्रदेश संगठन मं˜ाी हुकमसिंह अजीत, पूर्वप्रŠाान ओमाराम भील, ओमाराम मेƒावाल, एनएसयूआई जिलाŠयक्ष राजे‹द्र कड़वासरा, यूथ कांग्रेस जिलाŠयक्ष लक्ष्म‡ा गोदारा, हुलास बाफना, कंूपाराम पंवार, सुरेश सैन जेठंतरी सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस पदाŠिाकारी व कार्यकर्तामौजूद थे। कांग्रेस सेवादल जिलाŠयक्ष डालूराम प्रजापत पचपदरा ने मुख्यमं˜ाी को गार्ड ऑफ ऑनर दिया।
नहीं पहुंचे चौधरी, चर्चाएं रही जारी- मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सोमवार को पचपदरा रिफाइनरी कार्यनिरीक्षण के कार्यक्रम में गुड़ामालानी विधायक हेमाराम चौधरी नहीं पहुंचे।

[MORE_ADVERTISE1][MORE_ADVERTISE2]