स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अंतरराष्ट्रीय मेले में बाड़मेरी क्राफ्ट का प्रदर्शन

Moola Ram Choudhary

Publish: Oct 20, 2019 22:58 PM | Updated: Oct 20, 2019 22:58 PM

Barmer

दो अंतरराष्ट्रीय सीमाओं की कला फैशन के रंग में

हैंडीक्राफ्ट फेयर का आयोजन

बाड़मेर. ग्रेटर नोएडा में इंडिया एक्सपो सेंटर एंड मार्ट में चल रहे 48वें इंडियन हैंडीक्राफ्ट एडं गिफ्ट फेयर ऑटम 2019 के रैम्प पर बाड़मेर हस्तशिल्प उत्पादों की चमक बिखरी।

ग्रामीण विकास एवं चेतना संस्थान की अध्यक्ष रूमा देवी ने बताया कि हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद की ओर से चाइना बॉर्डर स्थित उत्तराखंड के माणा गांव से देशी ऊनी धागे से तैयार कपड़ो पर डिजायन कर उस पर बाड़मेरी शिल्पकारी दिखाने का आमंत्रण मिला।

जिसके लिए रूमा देवी के नेतृत्व में मास्टर आर्टिजन सुगडी देवी, चूनी देवी, नेनसी सहित 20 कुशल दस्तकारों के समूह ने डिजाइनिंग व कशीदाकारी के काम को अंजाम दिया।

यहां एक तरफ चाइना बार्डर की बुनाई और इधर पाक बोर्डर से बाड़मेर की कांच कशीदाकारी करवा कर दो अंतरराष्ट्रीय सीमाओं के ग्रामीण हस्तशिल्पीयों की कशीदाकारी फैशन रैम्प पर दिखाई दी। इस शॉ के बाद रूमा देवी को उतराखण्ड के गांवो की महिलाओं को कशीदाकारी का प्रशिक्षण देने का ऑफ र मिला जिसके लिए बाङ़मेर से मास्टर आर्टिजन उतराखण्ड जाएंगे ।

संस्थान सचिव विक्रम सिंह ने बताया कि दस्तकारों ने कोट, जैकेट, ट्रेसकोट, ब्लेजर, मफ लर, हैण्ड बैग, स्लिंग बैग, कलच बैग बनाकर उस पर परम्परागत कशीदाकारी से नवीन आकर्षक रूप दिया। फैशन शॉ में केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने बाड़मेर के काम की सराहना की।

इस दौरान इपीसीएच के जनरल डायरेक्टर राकेश कुमार सहित विभिन्न विभागों के प्रतिनिधी सहित देश विदेश के निर्यातक व आयातक उपस्थित रहे।

फेयर में 110 देशों के खरीददारों के लिए देश के 3200 से अधिक निर्यातकों के स्टॉल सजे है। जिसमें राजस्थान से 678 प्रदर्शक शामिल हुए । जिसमें सर्वाधिक जोधपुर से 378 और जयपुर से 296 है । ये निर्यात ऑर्डर के लिए उत्पादों का प्रदर्शन कर रहे हैं ।