स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शराब के सुरूर में दे रहा था गालियां, करना पड़ गया पुलिस बल तैनात, मारपीट की घटना से माहौल गर्माया, कस्बा बन्द की चेतावनी

Shiv Bhan Singh

Publish: Sep 03, 2019 18:28 PM | Updated: Sep 03, 2019 18:28 PM

Baran

मारपीट की घटना से माहौल गर्माया, कस्बा बन्द की चेतावनी
किशनगंज. यहां सोमवार देर रात एक समुदाय विशेष के लोगों द्वारा घर में घुसकर दूसरे समुदाय के व्यक्ति से मारपीट करने के बाद माहौल गरमा गया। इस बीच बजरंग दल व आरएसएस कार्यकर्ता भी मौके पर पहुंच गए थे। माहौल बिगड़ता देख किशनगंज पुलिस ने पुलिस अधीक्षक को सूचना देकर बारां से आरएसी का अतिरिक्त रिजर्व बल के अलावा भंवरगढ़, नाहरगढ़ व केलवाड़ से अतिरिक्त जाब्ता बुलाकर शाहबाद रोड स्थित बस्ती में तैनात कर दिया।

मारपीट की घटना से माहौल गर्माया, कस्बा बन्द की चेतावनी
किशनगंज. यहां सोमवार देर रात एक समुदाय विशेष के लोगों द्वारा घर में घुसकर दूसरे समुदाय के व्यक्ति से मारपीट करने के बाद माहौल गरमा गया। इस बीच बजरंग दल व आरएसएस कार्यकर्ता भी मौके पर पहुंच गए थे। माहौल बिगड़ता देख किशनगंज पुलिस ने पुलिस अधीक्षक को सूचना देकर बारां से आरएसी का अतिरिक्त रिजर्व बल के अलावा भंवरगढ़, नाहरगढ़ व केलवाड़ से अतिरिक्त जाब्ता बुलाकर शाहबाद रोड स्थित बस्ती में तैनात कर दिया।
जानकारी के अनुसार सोमवार रात शाहबाद रोड स्थित बस्ती में शराब के नशे में धन्नालाल कोली अपने परिजनों से गाली गलौच कर रहा था। इसी दौरान नजदीक रहने वाले समुदाय विशेष के कांग्रेस नेता के पुत्रों ने धन्नालाल के साथ लाठियों से मारपीट कर दी। इस पर अन्य लोगों ने उसे बचाया। घटना के दौरान अन्य लोगों व हमलावरों के बीच भी हाथापाई हुई। घटना की सूचना कस्बे में फैलने के बाद सामाजिक व हिंदू संगठनों के कार्यकर्ता मौके पर पहुंचे और नारेबाजी की। माहौल बिगड़ता देख पुलिस प्रशासन ने बस्ती में चप्पे-चप्पे पर जवान तैनात कर लोगों को वहां से खदेड़ा। कस्बे में घटनास्थल के अलावा शाहाबाद मार्ग पर भी पूरी रात जाप्ता तैनात रहा व मंगलवार दोपहर तक पुलिस पेट्रोलिंग जारी रही।
कस्बा बंद की दी चेतावनी
घटना के विरोध में आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर कोली समाज के लोगों ने पुलिस प्रशासन पर सवाल उठाते हुए एसडीएम चंदन दुबे को ज्ञापन सौंप आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की। समाज के लोगों ने पुलिस पर आरोप लगाया कि पुलिस द्वारा घटना के बाद पीडि़त धन्नालाल को गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि आरोपी खुले में घूमते रहे। ज्ञापन देने वालों ने आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर बुधवार को कस्बे को पूरी तरह बंद करने की चेतावनी भी दी। उन्होंने राजनीतिक दबाव के चलते पुलिस पर आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने के मामले में सख्त नाराजगी जताई।
बैठक में हुई चर्चा
घटना के बाद पुलिस ने शान्ति समिति की बैठक बुलाकर मामले को लेकर चर्चा की। बैठक में सदस्यों से कस्बे में तनावपूर्ण माहौल नहीं बनाने की अपील की। इसके अलावा अन्य मुद्दों पर भी विस्तार से चर्चा हुई। इस दौरान कार्यवाहक थानाधिकारी सीताराम मीणा, हेड कांस्टेबल दिनेश कुमार, कांग्रेस नेता घनश्याम नागर, भाजपा प्रदेश मन्त्री नाथूलाल नागर समेत विशेष ही लोग मौजूूद रहे।

-धन्नालाल कोली नाम का व्यक्ति शराब के नशे में घर पर गालीगलोच कर रहा था। पास ही रहने वाले समुदाय विशेष के कुछ युवकों ने मामूली मारपीट कर दी। मामले के तूल पकडऩे से माहौल गरमा गया। धन्नालाल को शराब के नशे में होने से पकड़ा था। दूसरे पक्ष के लोगों के कुछ नामजद लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर डीवाइएसपी द्वारा जांच की जा रही है।
सीताराम मीणा, एएसआई कार्यवाहक थानाधिकारी, किशनगंज