स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रात तक शिवालयों में दर्शनार्थियों की कतारें , गूंजते रहे भोलेनाथ के जयकारे

Shiv Bhan Singh

Publish: Aug 12, 2019 19:31 PM | Updated: Aug 12, 2019 19:31 PM

Baran

रात तक शिवालयों में दर्शनार्थियों की कतारें , गूंजते रहे भोलेनाथ के जयकारे
बारां. सावन के अंतिम सोमवार को शिवालयों में दिनभर भोलेनाथ के जयकारे गूंजते रहे। सुबह से रात तक शिवालयों में दर्शनार्थियों की कतारें लगी रही। ऐसे में लोगों को दर्शन के लिए कतारों में इंतजार करना पड़ा।

रात तक शिवालयों में दर्शनार्थियों की कतारें , गूंजते रहे भोलेनाथ के जयकारे
बारां. सावन के अंतिम सोमवार को शिवालयों में दिनभर भोलेनाथ के जयकारे गूंजते रहे। सुबह से रात तक शिवालयों में दर्शनार्थियों की कतारें लगी रही। ऐसे में लोगों को दर्शन के लिए कतारों में इंतजार करना पड़ा। मंदिरों में पहुंचे शिवभक्तों ने भोलेनाथ का आंक धतूरा व विल्वपत्र से मनमोहक शृंगार किया। वहीं दिनभर कावड़ यात्राएं भी निकलती रही।
शिवालयों पर लगी रही भीड
हरनावदाशाहजी. सावन के आखरी सोमवार को कस्बे के शिवालयों में पूजा अर्चना के साथ दर्शनों के लिए विशेष भीड़ नजर आई। छीपाबड़ौद मार्ग स्थित शिवालय गुफा मंदिर पर सुबह से ही पूजा अर्चना करने के लिए बालिकाओं के साथ महिलाओं की भीड रही। इस दौरान जलाभिषेक के साथ पूजा अर्चना का दिनभर दौर बना रहा। इधर बूढा महादेव एवं राजमंदिर स्थित शंकर भगवान के मंदिर पर भी दर्शनार्थियों का तांता लगा रहा। इधर सावन की विदाई भी सूखे के साथ ही हुई। कस्बे में दिनभर आसमान में बादल छाए जरुर रहे लेकिन बिना बरसे ही सूरज के साथ लुकाछीपी का खेल खेलते नजर आए।
कदम-कदम पर हुआ स्वागत
बामला. कस्बे से हांड़ीपाली महादेव मंदिर गए श्रीराम नवयुवक मंडल के कावडय़ात्रियों का सोमवार को बामला कस्बे में पहुंचने पर लोगों ने पुष्प वर्षा से स्वागत किया। कस्बे के समीप बारां-झालावाड़ मेगा हाइवे पर कावड़ यात्रियों के स्वागत के लिए बड़ी संख्या में महिलाएं मंगल गीत गाते पहुंची। इसके बाद भजनों पर नाचते गाते सभी जुलूस के रूप में माली सैनी शिवालय पर पहुंचे और वहां भोलेनाथ का हांड़ीपाली से लाए गए जल से जलाभिषेक किया। इसके बाद श्रद्धालुओं में प्रसाद का वितरण किया गया।
उत्साह हुआ दुगना
भंवरगढ़. यहां तीर्थ स्थली सीताबाड़ी से कावड़ यात्रा लेकर पहुंचे कावड़ यात्रियों का ग्रामीणों ने जगह-जगह स्वागत किया। इस दौरान विहिप, बजरंग दल, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ सहित अन्य सामाजिक संगठनों से जुड़े प्रतिनिधियों एवं ग्रामीणों ने पुष्प वर्षा से शर्बत पिलाकर पुण्य कमाया। इस बीच हुई हल्की बरसात ने कावड़ यात्रा का उत्साह दुगुना कर दिया। पुलिसकर्मियों ने भी कावड़ यात्रियों को फल बांटे। कावड़ यात्रा के दौरान डीजे पर बजते भजनों पर लोग नृत्य करते चल रहे थे। इसके बाद शाहबाद रोड स्थित भगवान कमलेश्वर महादेव का सरपंच चौधरी द्वारा पूजा-अर्चना के बाद भोलेनाथ का जलाभिषेक किया गया। आयोजन कमेटी के सदस्यों ने बताया कि कावड़ यात्रा में करीब 701 कावडि़ए शामिल हुए।
शिवालयों में उमड़े श्रद्धालु
देवरी. कस्बे के शिव मंदिरों में दिनभर हर हर महादेव, ओम नम शिवाय की गूंज रही। सावन मास का आखिरी सोमवार होने से मंदिरों को विशेष रूप से सजाया गया था। यहां पहुंचे श्रद्धालुओं ने भोलेनाथ का पंचामृत से अभिषेक कर मनमोहक शृंगार किया। यहां देव धाम सिद्ध पीठ हनुमान मंदिर, प्राचीन कंकाली माता मंदिर, श्रीनाथ मंदिर, गंगोलियापुरा में स्थित राधा कृष्ण मंदिर सहित अन्य मंदिरों में दर्शनार्थियों का तांता लगा रहा।
शिव मंदिरों पर उमड़े श्रद्धालु
कस्बाथाना. सावन माह के अंतिम सोमवार को शिवालयों में दर्शनार्थियों की भीड़ रही। कस्बे के नीमझिरिया, छैला वाली किले का शिवालय, कछियाथाना के शिवालय में रुद्राभिषेक सहित अन्य अनुष्ठान हुए। अंतिम सोमवार के चलते महिलाओं में विशेष उत्साह देखा गया महिलाओं ने शिवालयों में पहुंचकर संपूर्ण पूजा सामग्री विधि विधान के साथ विशेष पूजा-अर्चना की।
शिवालयो में रही भक्तों की भीड़
बमोरीकलां. समीपवर्ती हांडीपाली पालेश्वर महादेव मंदिर पर शिव भक्तों की भीड़ रही। इसी तरह कस्बे के जलेश्वर महादेव मन्दिर, सहस्त्र लिंगेश्वर मंदिर सहित सभी शिवालयों में पहुंचे शिव भक्तों ने भोलेनाथ का अभिषेक व शृंगार किया।
मंदिरों में रही रौनक
शाहाबाद. सावन माह के अंतिम सोमवार को शिव मंदिरों सहित क्षेत्र के सभी मंदिरों में विशेष पूजा अर्चना हुई। सुबह से ही मंदिरों में भगवान भोलेनाथ के जयकारे गूंजे। शिवालयों में अभिषेक का सिलसिला दिनभर चलता रहा। कस्बे के पिण्डासिल खोह स्थित शिवमंदिर, तपस्वीजी की बगीची में स्थित शिवालय, राजपुर रोड स्थित सहश्रेश्वर महादेव मंदिर, बस स्टैंड स्थित रामेश्वर महादेव मंदिर, पंचमुखी महादेव मंदिरों सहित विभिन्न शिव मंदिरों पर श्रद्वालुओं ने विशेष दर्शन पूजन किया।
मुस्लिम समाज ने किया कावडिय़ों का स्वागत
किशनगंज. कस्बे के रानीबड़ौद तिराहा के समीप नेशनल हाइवे 27 पर अंजुमन इस्लामे मदरसा रानी बड़ौद के सदस्यों ने धार्मिक स्थलों से कावड़ लेकर गुजर रहे कावडिय़ों का स्वागत कर जलपान करवाया गया। अंजुमन इस्लामे मदरसा समिति के सदर हुसैन मोहम्मद, सचिव नबीखान ने बताया कि धार्मिक स्थल सीताबाड़ी, कपिलधारा व कन्यादह आदि स्थानों से कावड़ लेकर आए कल्याणपुरा व मजडावता ग्रामों के शिव भक्तों की कावड़ यात्रा का स्वागत किया गया। अंजुमन इस्लामें मदरसा समिति के सदर हुसैन मोहम्मद व अन्य सदस्यों ने पुष्पमाला पहनाकर व मुंह मीठा करवाकर स्वागत किया। इस दौरान समिति के रशीद मोहम्मद, गनी मोहम्मद, इमामुद्दीन, अशफाक भाई, इरफान भाई, मंगू खान, मोनू खान, मोइनुद्दीन, अरमान खान आदि सदस्य उपस्थित रहे।