स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Death case in police custody भाजपा नेताओं का आरोप , पुलिस ने पिटाई से हुई मौत के बाद जबरन जहर खिलाया

Shiv Bhan Singh

Publish: Sep 06, 2019 18:10 PM | Updated: Sep 06, 2019 18:10 PM

Baran

Death case in police custody मांगरोल. पुलिस अभिरक्षा में रावल जावल निवासी युवक की मौत के बाद शुक्रवार को यहां फिर माहौल गरमा गया। भाजपा नेताओं ने यहां धरना देकर पुलिस पर हत्या करने का आरोप लगाया। भाजपा नेताओं ने परिजनों से मिलने के बाद बंद कमरे में रणनीति बनाई व उसके बाद थाने पहुंचे। ज्यो ंही ये थाने पहुंचे वहां बड़ी संख्या में लोग एकत्र हो गए।

भाजपा नेताओं का आरोप Death case in police custody , पुलिस ने पिटाई से हुई मौत के बाद जबरन जहर खिलाया
—- पुलिस हिरासत में मौत मामला
मांगरोल. पुलिस अभिरक्षा में रावल जावल निवासी युवक की मौत के बाद शुक्रवार को यहां फिर माहौल गरमा गया। भाजपा नेताओं ने यहां धरना देकर पुलिस पर हत्या करने का आरोप लगाया। भाजपा नेताओं ने परिजनों से मिलने के बाद बंद कमरे में रणनीति बनाई व उसके बाद थाने पहुंचे। ज्यो ंही ये थाने पहुंचे वहां बड़ी संख्या में लोग एकत्र हो गए। लगभग दो हजार से ज्यादा लोगों की भीड़ को पुलिस को काबू करने में मशक्कत करनी पड़ी। काफ ी देर तक हंगामा होता रहा लोग पुलिस व प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। इस बीच थाने के सामने ही पूर्व विधायक हेमराज मीणा ने लोगों को संबोधित किया व पुलिस की पिटाई से गिरीराज की मौत का आरोप लगाया। पत्रिका को दिए बयान में कोटा दक्षिण के विधायक संदीप शर्मा ने पुलिस द्वारा युवक की निर्ममतापूर्ण पिटाई करने व हाथ प्रेक्चर कर देने व बाद में जहर खिला मार देने का आरोप लगाया। कृषि मंत्री प्रभूलाल सैनी ने सुनियोजित षडयंत्र के तहत युवक की हत्या करने व बाद में मजिस्ट्रेट जांच का नाटक रच कर पुलिस के दोषी लोगों को बचाने का आरोप लगाते हुए दूध का दूध व पानी का पानी करने व न्याय दिलाने की मांग की। रामगंजमंडी के विधायक मदन दिलावर ने आरोप लगाया कि पुलिस की पिटाई व उसके बाद मौत हो जाने पर युवक को जबरन जहर खिलाया गया। बारां के अस्पताल में बुलाना पुलिस के आला अधिकारियों का सरकार को बदनामी से बचाने के मकसद के अलावा कुछ नहीं है।

दो दिन से डेरा
यहां दो दिन से अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय स्वर्णकार कोटा के उप पुलिस अधीक्षक संजय शर्मा , सीसवाली अंता थानों का पुलिस जाब्ता व अतिरिक्त पुलिस बल पिछले दो दिन से डेरा जमाए हुए है।

ये रहे मौजूद-
चारों विधायकों के अलावा भाजपा जिलाध्यक्ष राजेन्द्र नागर, प्रदेश मंत्री छगुन माहुर,प्रेमनारायण गालव,चंद्रप्रकाश विजय, मोरपाल सुमन, जिला प्रमुख नंदलाल सुमन, पूर्व भाजपाध्यक्ष आनंद गर्ग, ब्रहमानंद शर्मा,प्रशांत विजय,रामशंकर वैष्णव, बोरदा सरपंच दिलीप मीणा, पूर्व भाजपा मंडल अध्यक्ष ओम नागर,पीयूष विजय,संजय किंकर, जन जागरण मंच के हरिओम शर्मा,पालिकाध्यक्ष अमित चौपड़ा,योगेश गौतम, अशफाक भाई,रजाक भाई देहात मंडल के रमेश शर्मा समेत कई नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे।