स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हिरासत में मौत का मामला: समाप्त हुआ भाजपा का आंदोलन, पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज

abdul bari

Publish: Sep 08, 2019 23:24 PM | Updated: Sep 08, 2019 23:30 PM

Baran

पुलिस हिरासत में हुई मौत ( Death in police custody in baran ) के मामले को लेकर भाजपा ( BJP ) का आंदोलन दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ हत्या का मामला ( CASE OF MURDER ) दर्ज करने व मृतक के परिजनों को तीन लाख रुपए का मुआवजा देने की प्रशासन की घोषणा के बाद समाप्त हो गया।

मांगरोल/बारां.
मांगरोल पुलिस थाने में बुधवार देर रात पुलिस हिरासत में हुई मौत ( Death in police custody in baran ) के मामले को लेकर भाजपा ( BJP ) का आंदोलन दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ हत्या का मामला ( CASE OF MURDER ) दर्ज करने व मृतक के परिजनों को तीन लाख रुपए का मुआवजा देने की प्रशासन की घोषणा के बाद समाप्त हो गया। इस बारे में रात पौने दस बजे सहमति बन गई थी, लेकिन थाने के बाहर मौके पर मौजूद सांसद दुष्यंत सिंह ( MP DUSHYANT SINGH ) एफआईआर की कॉपी देने की मांग को लेकर अड़ गए। बाद में उन्हें करीब साढ़े दस बजे आंदोलन ( BJP PROTEST ) समाप्त किए जाने की घोषणा की।


सांसद दुष्यंत सिंह के तेवर काफी तल्ख रहे

इस दौरान एफआईआर की कॉपी को वहां मौजूद लोगों के बीच पढ़ा गया। पूरी वार्ता के दौरान सांसद दुष्यंत सिंह के तेवर काफी तल्ख रहे तथा वे कई बार अधिकारियों पर बरसे। मांगरोल के तहसील परिसर मेंं समझौते के दौरान जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव, पुलिस अधीक्षक केएल मीना, जिला प्रमुख नंदलाल सुमन, पूर्व विधायक हेमराज मीणा व भाजपा जिला महामंत्री मोरपाल सुमन व प्रखर कौशल आदि मौजूद रहे।


इन पर बनी दोनों पक्षों में सहमति


भाजपा के प्रदेश मंत्री छगन माहुर ने बताया कि प्रशासन से हुए समझौते के अनुसार मांगरोल में वारदात के दौरान थाने में पदस्थ अधिकारियों व पुलिस कर्मियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। इसके अलावा मृतक के परिजनों को फिलहाल तीन लाख रुपए का तत्काल मुआवजा देने तथा 25 लाख के मुआवजे के लिए राज्य सरकार को अनुशंसा भेजने व मृतक का विसरा एफएसएल जांच के लिए भेजने पर भी समहमति बन गई है। पुलिस कर्मियों के खिलाफ मृतक के काका की ओर से रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

परिजन आज संभालेंगे मृतक का शव

समझौता होने के बाद मृतक के परिजन जिला प्रमुख नंदलाल सुमन के साथ बारां के लिए रवाना हो गए। वे सोमवार सुबह जिला चिकित्सालय की मोर्चरी में रखे शव को संभालेंगे। इसके बाद शव को रावल-जावल गांव लाकर अन्तिम संस्कार किया जाएगा।