स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

चेकिंग के दौरान भारतीय सेना के जवान को पीटा, परिचय देने पर और जमकर मारा

Abhishek Gupta

Publish: Aug 03, 2019 21:44 PM | Updated: Aug 03, 2019 21:57 PM

Barabanki

बाराबंकी जिले में छुट्टी पर घर आए सेना के जवान के साथ यूपी पुलिस की बर्बरता का मामला सामने आया है।

बाराबंकी. बाराबंकी (Barabanki) जिले में छुट्टी पर घर आए सेना (Indian Army) के जवान के साथ यूपी पुलिस (UP Police की बर्बरता का मामला सामने आया है। जवान के मुताबिक पुलिस ने उसे रास्ते से पकड़ लिया और रात भर कोतवाली में बंद कर उसकी जमकर पिटाई की। जवान इस समय इंडियन आर्मी में लांस नायक के पद पर जालंधर में तैनात है। वहीं सेना के लांस नायक की गिरफ्तारी को लेकर कचहरी में वकीलों ने जमकर हंगामा किया।

ये भी पढ़ें- आरोपी कुलदीप सिंह के लिए आदरणीय, शुभकामनाएं शब्दों का इस्तेमाल कर विधायक ने बढ़ाई भाजपा की मुसीबत

यह है मामला-

मामला बाराबंकी के नगर कोतवाली क्षेत्र में स्थित रामचरन पूर्वा का है। जहां इंडियन आर्मी में लांस नायक संदीप कुमार मोटरसाइकिल से अपने दो साथियों के साथ वापस घर जा रहा था। तभी बाराबंकी पुलिस के एक दरोगा और तीन सिपाहियों ने चेकिंग के दौरान उसे रास्ते में पकड़ लिया और जमकर मारपीट की। पुलिसवालों का जब इतने से भी मन नहीं भरा तो उसे कोतवाली ले जाकर मारते पीटते रहे। सेना के जवान के मुताबिक उसने अपने इंडियन आर्मी में कार्यरत होने का परिचय भी पुलिस वालों को दिया, लेकिन उसके बाद उन लोगों ने यह कहते हुए उसे और ज्यादा मारा कि तुम लोगों को और ज्यादा ठीक करने की जरूरत है। वहीं पुलिस का आरोप है कि सेना के जवान ने पुलिसवालों से दुर्व्यवहार किया। इसलिए उसे गिरफ्तार किया गया है।

ये भी पढ़ें- सीबीआई के पहुंचते ही सेंगर की जेल में मचा हड़कंप, जेल अधिकारी को किया बाहर, आरोपी विधायक से अकेले की पूछताछ

Barabanki News

वकीलों ने लगाया आरोप-

गिरफ्तारी के बाद पुलिसवाले आज जब सेना के जवान को लेकर कचहरी पहुंचे तो वहां वकीलों ने जमकर विरोध किया। हंगामा काफी देर तक होता रहा। वकीलों का आरोप है पुलिस वालों ने सेना के जवान को बिना किसी वजह गिरफ्तार किया है और उसके साथ मारपीट की है। उनका कहना है सेना का जवान अपने दो साथियों के साथ वापस घर जा रहा था, तभी पुलिस ने चेकिंग के नाम पर उन्हें रोका और उनके साथ मारपीट की। जबकि अगर सेना के जवान के पास हेल्मेट नहीं था या वह तीन लोग गाड़ी पर बैठे थे, तो पुलिस वालों को उसका चालान करना चाहिए था। उन्होंने उसके साथ मारपीट क्यों की।

ये भी पढ़ें- इस प्रदेश के सीएम ने उन्नाव रेप पीड़िता व परिजनों से की बड़ी अपील, तो सीेएम योगी ने दिया करारा जवाब

परिचय देने पर और मारा-

सेना में जालंधर में तैनात लांस नायक संदीप कुमार यादव ने बताया कि वह अपने बीवी और बच्चों के साथ अपने घर जा रहा था तभी रास्ते में कुछ पुलिस वालों ने उसे रोका और उसके साथ मारपीट शुरू कर दी। उसने कई बार पुलिसवालों से पूछा कि उसका गुनाह क्या है लेकिन उन लोगों ने कुछ नहीं बताया और उसे कोतवाली ले जाकर रात भर मारते पीटते रहे। सेना के जवान के मुताबिक उसने अपने इंडियन आर्मी में कार्यरत होने का परिचय भी पुलिस वालों को दिया, लेकिन उसके बाद उन लोगों ने यह कहते हुए उसे और ज्यादा मारा कि तुम लोगों को और ज्यादा ठीक करने की जरूरत है।

पुलिस अधीक्षक का यह है कहना-

वहीं इस मामले पर बाराबंकी के अपर पुलिस अधीक्षक आर.एस. गौतम के मुताबिक पुलिस को जानकारी मिली थी कि बंकी चौकी क्षेत्र में कुछ लोग उपद्रव कर रहे हैं और लोगों को परेशान कर रहे हैं। इसी के बाद जब पुलिस मौके पर पहुंची तो वह लोग पुलिस से भी दुर्व्यव्हार करने लगे। जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर पुलिस वैधानिक कार्रवाई कर रही है।