स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भाजपा के लिये किसी अग्निपरीक्षा से कम नहीं है जैदपुर का उपचुनाव, कांग्रेस के तनुज पुनिया से मिल रही कड़ी चुनौती

Nitin Srivastva

Publish: Oct 13, 2019 12:18 PM | Updated: Oct 13, 2019 12:18 PM

Barabanki

उपचुनाव में जैदपुर विधानसभा सीट से कांग्रेस ने राज्यसभा सांसद पीएल पुनिया (PL Punia) के बेटे तनुज पुनिया (Tanuj Punia), बसपा ने अखिलेश अंबेडकर (Akhilesh Ambedkar), बीजेपी ने अंबरीष रावत (Ambrish Rawat) और सपा ने गौरव रावत (Gaurav Rawat) को चुनावी मैदान में उतारा है...

बाराबंकी. बीते लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Chunav 2019) के बाद उत्तर प्रदेश में खाली हुईं 11 विधानसभा सीटों के लिए विधानसभा उपचुनाव हो रहा है। प्रमुख राजनीतिक दलों के साथ ही निर्दलीय और स्वतंत्र प्रत्याशियों ने अपनी-अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगाना शुरू कर दिया है। बता दें कि उत्तर प्रदेश की 11 विधानसभा सीटों के लिए होने वाले उपचुनाव में मतदान 21 अक्टूबर और मतगणना 24 अक्टूबर को होगी। इसी के बाद पता चलेगा कि किस पार्टी के प्रत्याशी ने क्षेत्र में जीत हासिल कर प्रदेश की विधानसभा सीटों पर पार्टी का परचम लहराया।

सभी पार्टियों ने झोंकी ताकत

इसी क्रम में बाराबंकी जिले के अंतर्गत आने वाली विधानसभा संख्या 269 जैदपुर (Jaidpur Vidhan Sabha Barabanki) है, जहां उपचुनाव होना है। यहां से विधायक रहे उपेंद्र सिंह रावत (Upendra Singh Rawat) अब सांसद बन गए हैं। वह बाराबंकी लोकसभा सीट (Barabanki Lok Sabha Seat) से चुनाव जीते हैं। उपचुनाव में इस सीट से कांग्रेस ने राज्यसभा सांसद पीएल पुनिया (PL Punia) के बेटे तनुज पुनिया (Tanuj Punia) को टिकट दिया है। जबकि बसपा ने अखिलेश अंबेडकर (Akhilesh Ambedkar) को उम्मीदवार बनाया है। वहीं बीजेपी अंबरीष रावत (Ambrish Rawat) और सपा ने गौरव रावत (Gaurav Rawat) को चुनावी मैदान में उतारा है। इस समय भाजपा, सपा, बसपा और कांग्रेस जैसी प्रमुख राजनीतिक पार्टियों ने यहां अपने अपने कैंडिडेट को जीत दिलाने के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। रैली छोटी-बड़ी जनसभाएं, घर-घर जनसंपर्क जैसे हर चुनावी हथकंडा अपनाकर अपने पक्ष में मतदान करने की अपील पार्टी प्रत्याशियों द्वारा किया जा रहा है। जहां सत्ता पक्ष द्वारा प्रदेश और केंद्र में अपनी सरकारों द्वारा कराए गए विकास और जनकल्याणकारी कार्यों को गिराया जा रहा है तो वहीं विपक्षी पार्टियों द्वारा लोगों को तरह-तरह के प्रलोभन देकर क्षेत्र में विकास की गंगा बहाने जैसे राजनीतिक वायदे किए जा रहे हैं। इसके बावजूद मतदाताओं की चुप्पी ने सभी राजनीतिक दलों की धड़कनें बढ़ा रखी है।

भाजपा के सामने कड़ी चुनौती

बाराबंकी जिले की जैदपुर सीट (Jaidpur Seat) पर इस बार बीजेपी को कड़ी मशक्कत करनी पड़ सकती है। यहां बाराबंकी से सासंद रहे पीएल पुनिया के बेटे तनुज पुनिया मैदान में हैं। पुनिया के परिवार का बाराबंकी में खासा प्रभाव माना जाता है। हालांकि बीजेपी के हाथों तनुज दो बार मात खा चुके हैं, लेकिन अब इस सीट पर वह बीजेपी को कड़ी टक्कर दिखाई देते दिख रहे हैं। 2017 के विधानसभा चुनाव में तनुज पुनिया 30 हजार वोटों से हारे थे। यहां 10 फीसदी वोटों के अंतर को लेकर बीजेपी भी आश्वस्त रहना नहीं चाहेगी। सियासी जानकारों का मानना है कि जैदपुर से बीजेपी के अंबरीष रावत को तनुज पुनिया से कड़ी चुनौती मिल रही है।

ये है राजनीतिक इतिहास

जैदपुर विधानसभा सीट के अस्तित्व में आने के बाद से अब तक यहां सिर्फ दो बार विधानसभा चुनाव हुआ है। जिसमें पहली बार समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के रामगोपाल (Ram Gopal Rawat) ने जीत दर्ज की थी। जबकि साल 2017 का विधानसभा चुनाव बीजेपी के उपेंद्र सिंह रावत ने जीता। जैदपुर विधानसभा सीट पर यादव, कुर्मी, रावत, मुसलमान के वोट हैं। बाराबंकी के जैदपुर से बीजेपी के विधायक उपेंद्र रावत भी सांसद बन गए हैं। वह बाराबंकी लोकसभा सीट से चुनाव जीते हैं। अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित जैदपुर विधानसभा सीट के 2017 नतीजों की बात की जाए तो यहां से उपेंद्र रावत 1 लाख 11 हजार 64 वोट पाकर चुनाव जीते थे। इस सीट पर कांग्रेस के तनुज पूनिया 81 हजार 883 वोट लाकर दूसरे स्थान पर रहे थे। उन्हें 32.32 प्रतिशत वोट मिले। वहीं बीएसपी की उम्मीदवार कुमारी मीता गौतम को 48 हजार 95 वोट मिले. उन्हें 19 प्रतिशत वोट हासिल हुआ और वह तीसरे नंबर पर रहीं। इसके अलावा सपा के रामगोपाल रावत को 4383 वोट मिले।

इनके हैं इतने वोट

साल 2017 के आंकड़ों के अनुसार इस विधानसभा क्षेत्र में कुल मतदाताओं की संख्या 3 लाख 79 हजार 754 है। जिसमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 2 लाख 01 हजार 621 है। जबकि महिला मतदाताओं की संख्या 1 लाख 78 हजार 118 है। जबकि 15 थर्ड जेंडर, 282 सेंटर और 445 बूथ हैं। अब देखना दिलचस्प होगा कि इस बार सीट पर किस पार्टी को जीत मिलती है।


2017 विधानसभा चुनाव के नतीजे

उपेंद्र रावत (बीजेपी)- 111064 वोट

तनुज पुनिया (कांग्रेस)- 81883 वोट

कु. मीता गौतम (बसपा)- 48095 वोट

रामगोपाल रावत (सपा)- 4383 वोट

यह भी पढ़ें: बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के बाद अब मुसीबत में अब्बास अंसारी, पुलिस ने बढ़ाई मुसीबत