स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अब ऐसे नहीं बनेगा नया शस्त्र लाइसेंस, पहले आपको करना होगा ये काम

Nitin Srivastva

Publish: Sep 17, 2019 10:25 AM | Updated: Sep 17, 2019 10:26 AM

Barabanki

- शस्त्र लाइसेंस (Armed License) की चाहत है, तो आपके लिये जरूरी खबर

- शस्त्र लाइसेंस का आवेदन (Armed License Application) करने से पहले करें गो सेवा

- सरकारी खाते में दान करने होंगे 11 हजार रुपये (Armed License Fees)

- आवेदक को पौधरोपण (Armed License Applicant) करते हुए फोटो भी अपनी फाइल में लगाना होगा

बाराबंकी. अगर आपको शस्त्र लाइसेंस (Armed License) की चाहत है, तो यह खबर आपके लिये जरूरी है। शस्त्र लाइसेंस के लिये आवेदन (Armed License Application) करने वालों के लिए अब एक नई व्यवस्था लागू की गई है। जिसके मुताबिक आवेदक को लाइसेंस का आवेदन करने के लिए गो सेवा को लेकर सरकारी खाते में 11 हजार रुपये दान (Armed License Fees) करने होंगे। इसके साथ समाजसेवी संस्था रेडक्रास, राइफल क्लब और खेलकूद जैसी समिति की भी मदद करनी होगी। उसके बाद ही जिला प्रशासन आपका आवेदन स्वीकार करेगा। बाराबंकी के जिलाधिकारी डॉ आदर्श सिंह (Barabanki DM Dr Adarsh Singh) के निर्देश पर गौसेवा जैसे नेक कार्य के लिए यह पहल शुरू की गई है।

समाजसेवा को शुरू हुई नई पहल

नए शस्त्र लाइसेंस (New Armed License) के आवेदक को समाजसेवा के साथ गो सेवा करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा नई पहल शुरू की गई है। जहां पहले शस्त्र आवेदन (Armed License Application) के समय कुछ आवेदक ऊंचे रसूख के चलते जैसे तैसे आवेदन कर देते थे और लाइसेंस भी जारी करा लेते थे। लेकिन इस बार बाराबंकी के जिलाधिकारी डा. आदर्श सिंह (DM Dr Adarsh Singh) ने समाजसेवा के तौर पर नई पहल शुरू की है। इसमें शस्त्र लाइसेंस के आवेदन के समय आवेदक को जिला अस्थाई गोवंश आश्रय स्थल के नाम से बैंक ऑफ इण्डिया (Bank Of India) के खाता संख्या 721810110009228 में सहयोग राशि 11 हजार रुपये दान करने होंगे। वहीं समाजसेवी संस्था रेडक्रास को दो हजार रुपये, रायफल क्लब को दो हजार रुपये के साथ खेलकूद प्रोत्साहन समिति के लिए एक हजार रुपये की आर्थिक मदद करनी होगी। इसके अलावा स्टाम्प का शुल्क रिवाल्वर, पिस्टल, रायफल, डीबीबीएल और एसबीबीएल के लिए एक हजार से दो हजार रुपये तक जमा कराना होगा।

पौधरोपण कर फाइल में लगाएं फोटो

बाराबंकी के जिला अधिकारी डा. आदर्श सिंह (IAS Dr Adarsh Singh) द्वारा समाजसेवा की पहल शुरू की है, उसी तर्ज पर हरियाली संवर्धन के लिए भी आवेदकों से पौधरोपण करने को कहा है। शस्त्र लाइसेंस के आवेदक (Armed License Apllicatnts) को पौधरोपण करते हुए फोटो भी अपने आवेदन के समय फाइल में लगाना होगा। जिसको देखने के बाद ही शस्त्र लाइसेंस के आवेदन (Armed License Application) की फाइल पर आगे का काम होगा।

खेलकूद को मिलेगा बल

सूत्रों के मुताबिक खेलकूद के लिए जो बजट होना चाहिए वह भी पर्याप्त नहीं मिल पाता है। ऐसे में समिति में लोगों को कुछ अंश जरूर दान करना चाहिए। इसी कड़ी में शस्त्र लाइसेंस के आवेदकों से मदद ली जा रही है।

यह भी पढ़ें: अब नहीं बनेंगे पासपोर्ट, जाति-आय जैसे बाकी सभी प्रमाणपत्र, सरकार ने जारी की नई गाइलाइन