स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Banswara_News : सोशल मीडिया पर भोपे सक्रिय, मोबाइल पर मंत्र पढकऱ सांप का जहर उतारने का ढोंग

Varun Kumar Bhatt

Publish: Aug 22, 2019 11:23 AM | Updated: Aug 22, 2019 11:23 AM

Banswara

Superstitions on social media : सोशल मीडिया पर भोपे सक्रिय, मोबाइल पर मंत्र पढकऱ सांप का जहर उतारने का ढोंग

बांसवाड़ा. उपचार के नाम पर ढोंग करने वाले भोपो लोगों तक अपनी पहुंच बढ़ाने के लिए सोशल मीडिया को भी अपना हथियार बनाने लगे हैं। कुछ भोपों के फोन नंबर सोशल मीडिया पर वायरल किए जा रहे हैं, जिससे उपचार के नाम पर पीडि़त के कान में मोबाइल फोन पर मंत्र पढकऱ सांप का जहर उतार देने के ढोंग किए जा रहे हैं।

सोशल मीडिया पर वायरल भोपों के मोबाइल नंबरों पर पत्रिका रिपोर्टर ने टोह ली और हकीकत जानी तो चौंकाने वाली बातें सामने आई। रिपोर्टर ने तीन भोपों से मोबाइल पर बात की और उनसे जहरीले सांपों का जहर उतारने के बारे में पूछा तो सभी ने बिना संकोच के ढोंग का कच्चा चि_ा सुना दिया। रिपोर्टर ने इन भोपों की बातों की रिकार्डिंग भी की।

बांसवाड़ा में भोपों के ढोंग की खुली पोल : हैण्डपंप का पानी शरीर पर छिडक़ा, धागा बांधा और उतर गया कोबरा सांप का जहर

36 जहरीले जंतु गिनाए
सोशल मीडिया में दर्शाये एक नंबर पर पत्रिका रिपोर्टर ने भोपे से बात की तो उसने 36 प्रकार के जहरीले जन्तु गिनाते हुए इनका जहर मोबाइल पर बात करके उतार देने का दावा किया। उसने कहा कि कोबरा सांप हो या रैटल स्नेक या अन्य कोई वह मोबाइल पर बात कर मंत्र पढकऱ जहर उतार देगा। जबकि चिकित्सकों के मुताबिक ऐसा संभव नहीं है।

केवल मोबाइल पर बात से यों इलाज की कहानी
इसके बाद मोबाइल पर दूसरे भोपे के नंबर पर बात की। उससे सवाल पूछा कि यदि किसी को सांप काट ले तो वे कैसे उसका उपचार कर देगा। भोपे ने कहा जब सांप या कोई जहरीला जानवर काट ले तो जल्द से जल्द पीडि़त से मोबाइल पर बात करा दें। वो पीडि़त के कान में मंत्र पढ़ देगा। इससे जहर कट जाता है और पीडि़त दुरुस्त हो जाएगा।

अजब-गजब : गांव के लोगों में मोबाइल फंक्शन की जानकारी थोड़ी कम, इसलिए... 'यहां दीवारें बोलती है नम्बर'

इसका अस्पताल जाने की जरूरत न होने का दावा
तीसरेभोपे ने बातचीत में कहा कि अस्पताल जाने की कोई जरूरत नहीं है। मोबाइल से ही जहर उतार देगा, लेकिन आप का मन न भरे तो अस्पताल भी जा सकते हो कोई मनाही भी नहीं है।

जान पर घात और दावा सेवार्थ काम का
भोपों ने बताया कि उनका ग्रुप है, उसमें कई लोग जुड़े हैं और उनके द्वारा सेवार्थ काम किया जाता है। इसके लिए वो कोई पैसे नहीं लेते हैं।

चिकित्सा विज्ञान के सिद्धांतों को धत्ता
एक ओर जहां चिकित्सक सांप काटने के बाद कपड़ा या अन्य कुछ बांधने को मना करते हैं वहीं, इन भोपों में से एक ने कहा कि जहां सांप काटे उसके आगे कुछ दूरी पर कस कर कपड़ा या रस्सी बांध दो। इसके अलावा उसने बतायाकि जहां सांप ने काटा है वहां कट मारकर खून निकाल दो। इससे जहर का प्रभाव कम होगा।