स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Stduent Election 2019 : छोटे नेताजी के चुनावी रण में भी बड़े नेताओं के चुनाव सा मिजाज

Yogesh Kumar Sharma

Publish: Aug 13, 2019 18:12 PM | Updated: Aug 13, 2019 18:12 PM

Banswara

Stduent Election 2019 : गोविन्द गुरु महाविद्यालय और मामा बालेश्वर दयाल कॉलेज, कुशलगढ़ में गठबंधन और एबीवीपी में हमेशा रहा है कड़ा मुकाबला, हरिदेव जोशी कन्या महाविद्यालय और एकलिंग नाथ संस्कृत महाविद्यालय, गनोड़ा में गठबंधन का कई वर्षों से बना हुआ है  वर्चस्व, इस बार ‘ऊंट’ किस करवट बैठेगा यह तो भविष्य ही बता

महाविद्यालय में विद्यार्थी जमीन व सीढिय़ों पर बैठकर पढऩे को मजबूर

बांसवाड़ा. प्रदेश में विधानसभा चुनाव के परिणामों जैसा मिजाज बांसवाड़ा जिले के छात्रसंघ चुनाव में गत वर्षों में दिखता रहा है। प्रदेश में एक बार भारतीय जनता पार्टी और एक बार कांगे्रस की सरकार बनने का जो दौर पिछले कई चुनाव से देखने को मिल रहा है, वैसा ही कुछ श्री गोविन्द गुरु राजकीय महाविद्यालय एवं मामा बालेश्वर दयाल राजकीय महाविद्यालय, कुशलगढ़ में छात्रसंघ चुनाव में सामने आते रहा है। एक दो चुनाव को छोडकऱ यही ट्रेंड रहा है कि एक चुनाव में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने बाजी मारी तो अगले चुनाव में एनएसयूआई-अजाजजा छात्रसंघ गठबंधन ने अपना परचम लहराया। महाविद्यालय के मतदाता विद्यार्थियों ने दोनों ही छात्र संगठनों में बारी-बारी से भरोसा जताया है। यद्यपि यह क्रम कुशलगढ़ में 2015 और फिर 2018 में ब्रेक लगा और गठबंधन को लगातार दो वर्ष जीत मिली। इस बार ‘ऊंट’ किस करवट बैठेगा यह तो भविष्य ही बताएगा, लेकिन जब एक अपना वर्चस्व बचाए रखने के लिए और दूसरा खोया मुकाम हासिल करने के लिए जोर आजमाइश करेगा तो मुकाबला इस बार भी दिलचस्प रहने के आसार है।

यहां गठबंधन का रहा है गढ़
हरिदेव जोशी राजकीय कन्या महाविद्यालय व एकलिंग नाथ संस्कृत राजकीय महाविद्यालय में गत पांच वर्ष से लगातार अध्यक्ष पद पर गठबंधन का कब्जा रहा है। इन दोनों कॉलेजों में अध्यक्ष पद पर जीत के लिए एबीवीपी लम्बे समय से इंतजार है। कन्या महाविद्यालय में अंतिम बार वर्ष 2013 में एबीवीपी को सफलता मिली थी और अध्यक्ष पद पर संगीता बामनिया निर्वाचित हुईं थीं।

 

banswara