स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सडक़ दुर्घटना में बालक की मौत, गुस्साए ग्रामीणों ने किया पथराव, कार में लगाई आग

kamlesh sharma

Publish: Aug 18, 2019 21:51 PM | Updated: Aug 18, 2019 21:51 PM

Banswara

कुशलगढ़ से करीब 7 किमी दूर बांसवाड़ा कुशलगढ़ वाया डूंगरा मार्ग पर रविवार शाम कार की टक्कर से एक टैम्पो 10 फीट गहरी खाई उतरकर पलट गया।

कुशलगढ़। कुशलगढ़ से करीब 7 किमी दूर बांसवाड़ा कुशलगढ़ वाया डूंगरा मार्ग पर रविवार शाम कार की टक्कर से एक टैम्पो 10 फीट गहरी खाई उतरकर पलट गया। हादसे में टैम्पों में सवार एक बालक की मौत हो गई जबकि 8 जने घायल हो गए। घायलों को कुशलगढ़ सीएचसी में भर्ती करवाया गया।

इधर, हादसे से आक्रोशित ग्रामीणों ने मौके पर जमकर हंगामा और पथराव कर दिया। पथराव में एक पुलिसकर्मी घायल हो गया। इसके बाद भी उग्र ग्रामीण नहीं माने और उन्होंने कार को आग लगा दी तब पुलिस ने ग्रामीणों को खदेडऩे के लिए हवाई फायर किए। बाद अतिरिक्त पुलिस बल मौके पर पहुंचा और हालात काबू में किए।

ऐसे चला घटनाक्रम
शाम तकरबीन साढ़े पांच बजे ऊंकाला से कुशलगढ़ जा रहे टैम्पों को पीछे से आ रही एक कार ने टक्कर मार दी। इससे टैम्पो देवदासाथ गांव के पास खाई में उतरकर पलट गया। इस हादसे में टैम्पों सवार 14 वर्षीय किशोर झामरी पातापोर निवासी बहादुर पुत्र लखजी की मौके पर मौत हो गई। साथ ही आठ जने घायल हो गए।

ऐसे शुरू हुआ हंगामा
हादसे के बाद ग्रामीणों, घायलों और मृतक बच्चे के परिजनों ने मौके पर आक्रोश जताया और फैसला करने की बात कही। साथ ही कुछ लोगों ने पत्थर रख सडक़ पर हंगामा शुरू कर दिया। सूचना पर मौके पर पुहंचे थानाधिकारी हनुवंत सिंह सिसोदिया ने पत्थरों को हटवाकर मार्ग सुचारू कराया।

कुछ देर बाद फिर परिजन शव को लेकर मार्ग के बीच बैठ गए व मार्ग जाम करने का प्रयास किया। पुलिस के रोकने पर ग्रामीणों ने पथराव शुरू कर दिया। पथराव में सिपाही घायल शव को बीच सडक़ न रखने की बात पर भडक़े ग्रामीणों ने पथराव शुरू कर दिया। पथराव में सिपाही विकास जाट के सीने पर गंभीर चोट आई। जिसे तुरंत कुशलगढ़ चिकित्सालय भिजवाया गया। वहीं, ग्रामीण देरशाम तक आक्रोश जताते रहे और रहरह कर पत्थरबाजी करते रहे।

ये हुए घायल
दुर्घटना में वागोल निवासी सरीफा पुत्री हालू सीमू पुत्री हालू, खेडपुर निवासी मीना पुत्री फतू खडिया, फतू पुत्र होमजी खडिया, लखु पत्नी फतू खडिया, बावडी डिण्डोर निवासी सीता पुत्री गोरसींग डिण्डोर, सोनू पुत्री गोरसिंग व सागवा निवासी लक्ष्मी पत्नी कैलाश शामिल है।