स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

वागड़ में जमकर बरसे मेघ, दानपुर में चार इंच बारिश, फिर बही माही बांध के 16 गेट से जलधार

Varun Kumar Bhatt

Publish: Sep 11, 2019 13:21 PM | Updated: Sep 11, 2019 13:21 PM

Banswara

Heavy Rain In Rajasthan : दानपुर का आसपास के गांवों से दिनभर कटा रहा संपर्क

बांसवाड़ा. जिला मुख्यालय समेत जिलेभर में मंगलवार को उतरते भादो में काले बादल जमकर बरसे। बारिश से जहां नदी-नाले एक बार फिर उफान पर आ गए तो माही बांध समेत कई जल स्रोतों ने भी अपना मुंह खोल दिया। पिछले दिनों गर्मी और उमस के बाद सोमवार मध्यरात्रि से जिला मुख्यालय सहित ग्रामीण इलाकों में अच्छी वर्षा हुई। यह दौर बादलों की गर्जना के बीच मंगलवार शाम पांच बजे तक जारी रहा। सर्वाधिक चार इंच बारिश दानपुर में दर्ज की गई। वहीं माही बांध के 16 गेट एक बार फिर खोल दिए गए हैं। मंगलवार को सुबह से ही तेज बारिश से पानी सडक़ों पर बह निकला। भीतरी क्षेत्रों में घुटनों तक पानी भर गया। लोगों को आवागमन में दिक्कतें हुई। पाला क्षेत्र में तो आवाजाही कुछ देर के लिए बंद हो गई। दुकानों की सीढिय़ां भी पानी में डूब गई। वहीं ग्रामीण इलाकों में भी जमकर बारिश हुई।

यहां इतना बरसा पानी
इधर, नियंत्रण कक्ष के अनुसार मंगलवार सुबह आठ से शाम छह बजे तक सर्वााधिक चार इंच बारिश दानपुर में 102 मिमी दर्ज की गई। इसके अलावा अरथूना में 47, गढ़ी में 45, बांसवाड़ा में 35, शेरगढ़ में 34, बागीदौरा में 27, केसरपुरा व सज्जनगढ़ में 25-25, लोहारिया में 21, भूंगड़ा में 17, घाटोल में 10, कुशलगढ़ में सात व जगपुरा में दो मिमी बारिश हुई। इससे पहले मंगलवार सुबह आठ बजे तक कुशलगढ़ में 35, भूंगड़ा में 32, बांसवाड़ा में 26, सज्जनगढ़ में 25, बागीदौरा में 23, सल्लोपाट में 20, गढ़ी में 18, अरथूना में 17, घाटोल में 15, केसरपुरा, लोहारिया व व दानपुर में दस-दस, शेरगढ़ में 09, जगपुरा में 8 मिमी बारिश दर्ज की गई।

उफने नदी-नाले
दानपुर. दानपुर सहित क्षेत्र में जमकर बरिश हुई। मंगलवार सुबह 8 बजे तक 10 मिमी तथा 8 से शाम 5 बजे तक 102 मिमी बारिश दर्ज की गई। मौसम विभाग ने रतलाम, नीमच व मंदसौर जिलों में भारी बारिश को लेकर रेड अलर्ट जारी किया था। भारी बारिश से रतलाम-सैलाना से बहकर आने वाली बुंदन नदी पूर्ण बहाव रही। जहांपुरा स्थित नदी के पुल पर करीब 4 फीट पानी की चादर चली। इससे दानपुर कस्बे से दर्जनभर गांवों का संपर्क शाम तक कटा रहा। आमजन व व्यापार प्रभावित हुआ। वाहन हैडलाइट ऑन कर गुजरते रहे। करीब साढ़े 11 बजे तेज गर्जना के बीच मूसलाधार बारिश शुरू हुई जो करीब पौन घंटे तक चलती रही।

दो घर ढहे
खोडन. ग्राम पंचायत सुजाजी का गढ़ा के सामाफला में दोपहर में मदनसिंह गमीर सिंह सोलंकी और पुष्पेन्द्र सिंह बसन्तसिंह सोलंकी के कच्चे मकान का आगे का भाग गिर गया। सुबह सुजाजी का गढ़ा में राजेन्द्रसिंह चौहान का दो मंजिले मकान में ऊपर वाला कच्चा भाग ढह गया। गनीमत रही कि परिवार के सदस्य नीचे सोए हुए थे। पीडि़तों ने प्रशासन से आर्थिक सहायता की गुहार लगाई है। सज्जनगढ़ क्षेत्र में सोमवार से शुरु बारिश मंगलवार शाम 5 बजे तक रुक-रुक कर जारी रही। क्षेत्र के किसानों में खुशी है। खेत तालाब एवं नालों में भी पानी की आवक हो गई। तालाब भी लबालब भरने से ग्रामीण खुश हैं।

अलसुबह खोले बांध के गेट
जलग्रहण क्षेत्र से भारी मात्रा में जल आवक के बाद माही बांध के दस गेट अलसुबह तीन बजे आधा मीटर खोल दिए गए। इसके बाद लगातार आवक के चलते चार बजे तक 14 गेट खोले गए। पांच बजे तक 12 गेट आधा मीटर व चार गेट एक मीटर खोल दिए गए। इसके बाद भी जल आवक को देखते हुए रात नौ बजे तक आठ गेट आधा मीटर और आठ गेट एक मीटर खुले हुए थे।