स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बांसवाड़ा : चयनित वेतनमान के लिए चार घंटे तक प्रारंभिक शिक्षा विभाग में ढोल बजाकर प्रदर्शन, अब वार्ता आज

deendayal sharma

Publish: Nov 22, 2019 09:27 AM | Updated: Nov 22, 2019 09:27 AM

Banswara

बांसवाड़ा जिले के अप्रशिक्षित शिक्षिकाओं के चयनित वेतनमान को लेकर शिक्षा विभाग प्रारंभिक में शिक्षक संघ सियाराम के बैनर तले शिक्षिकाओं ने धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान ढोल बजाओं, नींद उड़ाओ की थीम पर चार घंटे तक शिक्षिकाएं डटी रही और शिक्षा अधिकारियों के खिलाफ रोष जताया। अब आज इस मसले पर आगे चर्चा होगी।

बांसवाड़ा. जिले के अप्रशिक्षित शिक्षिकाओं के चयनित वेतनमान को लेकर शिक्षा विभाग प्रारंभिक में शिक्षक संघ सियाराम के बैनर तले शिक्षिकाओं ने धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान ढोल बजाओं, नींद उड़ाओ की थीम पर चार घंटे तक शिक्षिकाएं डटी रही और शिक्षा अधिकारियों के खिलाफ रोष जताया।

संगठन के अनिल व्यास ने बताया कि वर्षोंं से शिक्षिकाएं चयनित वेतनमान की मांग कर रही है, लेकिन स्थानीय विभागीय अधिकारियों की लापरवाही से उच्चाधिकारियों के आदेश की पालना नहीं हो पा रही हैं। चयनित वेतनमान को लेकर वित्त विभाग, निदेशक आदि से आदेश जारी हो चुके है, लेकिन डीईओ कार्यालय से आदेशों की पालना नहीं की जा रही है।

महिला संघर्ष समिति की अध्यक्ष मीरा दुर्रानी ने बताया कि शिक्षिकाएं 1980 के बाद से सेवा में है, जब नियुक्ति हुई थी, तब हम बाध्यता नहीं थी, लेकिन कोर्ट के आदेश आने के बाद भी विभाग चयनित वेतनमान का लाभ नहीं दे रहा है। जिले में चयनित वेतनमान का 250 से अधिक शिक्षिकाओं का इंतजार हैं।

नहीं पहुंचे डीईओ, वरिष्ठ लिपिक ने दिया लिखित में

इधर, धरना स्थल पर डीईओ प्रारंभिक नहीं पहुंचे, लेकिन उनसे बातचीत के बाद वरिष्ठ लिपिक यशवंत जोशी ने लिखित में वार्ता के लिए शुक्रवार को बुलाया। अब आज इस मसले पर आगे चर्चा होगी। धरना प्रदर्शन के दौरान मीरा त्रिवेदी, नलीनी त्रिवेदी, कुमुदनी रावत, रोजी गुडवीन, प्रभा जैन, शक्ति नागर आदि मौजूद रहे।

[MORE_ADVERTISE1]