स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अपने ही घर में खाट पर खून से लथपथ मिली प्रौढ़ की लाश, माथे पर हमले के निशान, हत्या का मामला दर्ज

Varun Kumar Bhatt

Publish: Aug 17, 2019 12:33 PM | Updated: Aug 17, 2019 12:33 PM

Banswara

Dead Body Found : पुलिस ने प्रथम दृष्टया हत्या का मामला माना, गढ़ी थाना इलाके की घटना

परतापुर/बांसवाड़ा. गढ़ी थाना इलाके के खटवाड़ा नई आबादी गांव में शुक्रवार की सुबह एक प्रौढ़ का शव अपने घर की पड़साल में खाट पर खून से लथपथ अवस्था में बरामद हुआ। इससे इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना पर थाने से पुलिस पहुंची। मुख्यालय से डिप्टी एवं डॉग स्क्वायड भी पहुंचा। प्रौढ़ के ललाट पर गंभीर चोट के तीन निशान मिले हैं। पुलिस ने प्रथम दृष्टया इसे हत्या का मामला माना है और उसी के अनुसार अनुसंधान किया जा रहा है। पुलिस के अनुसार प्रौढ़ की हत्या क्यों की गई और इसके पीछे के क्या कारण है़ ? यह अभी तक पूरी तरह अस्पष्ट है। मौके से भी पुलिस को कुछ भी बरामद नहीं हुआ है। इसके अलावा डॉग स्क्वायड को भी ज्यादा सफलता नहीं मिली है।

पत्नी और बेटी रक्षाबंधन के चलते गई थीं
पुलिस के अनुसार मृतक खटवाड़ा नई आबादी निवासी हलिया (45) पुत्र हुरजी निनामा की पत्नी मीरा एवं उसकी छोटी बेटी काली दोनों जने रक्षाबंधन के अवसर पर अपने पीहर परतापुर आई हुई थी। इसके चलते हलिया घर पर अकेला ही था। बड़ी बेटी रेखा पास के गांव में गई हुई थी। गुरुवार की शाम करीब छह बजे रेखा अपने पिता हलिया को खाना खिलाकर गई थी। इसके बाद शुक्रवार की सुबह जब रेखा का बेटा हितेश अपने नाना हलिया के घर पहुंचा तो वहां पड़साल में खाट पर हलिया खून से लथपथ पड़ा हुआ था। यह दृश्य देखकर उसने अपनी मां एवं अन्य परिवार के सदस्यों को पूरी बात बताई। इसके बाद वे मौके पर पहुंचे। हलिया के ललाट पर गंभीर चोट के निशान भी थे।

संदिग्ध हालात में फंदे से लटका मिला विवाहिता का शव, परिजनों ने पति और ससुर पर लगाया हत्या का आरोप

अज्ञात के खिलाफ हत्या में प्रकरण दर्ज
इस सूचना के बाद थाने से पुलिस और फिर बांसवाड़ा से डिप्टी मौके पर पहुंचे। साथ ही एफएसएल की टीम एवं डॉग स्क्वायड भी मौके पर पहुंचा, लेकिन सफलता कुछ भी हाथ नहीं लगी। पुलिस ने मृतक के भाई मणिलाल की रिपोर्ट पर अज्ञात के खिलाफ हत्या में प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया है। साथ ही बोर्ड से पोस्टमार्टम के बाद शाम को शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया।

कुल्हाड़ी या हथौड़ा से हुआ हमला
बांसवाड़ा डिप्टी ने बताया कि प्रथम दृष्टया हलिया के ललाट पर किसी हथौड़े या कुल्हाड़ी के पीछे के हिस्से से चोट मारने के निशान दिखाई पड़े हैं। उन्होंने बताया कि हमला इतने जोरदार प्रहार के साथ किया गया कि हलिया का ललाट पूरी तरह पिचक गया। इसके अलावा खून की बौछारें दीवार तक पहुंच गई। खून के निशान पड़साल की दीवारों पर भी मिले हैं।