स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

फोन टैपिंग प्रकरण की सीबीआइ जांच करवाएगी सरकार

Santosh Kumar Pandey

Publish: Aug 18, 2019 19:15 PM | Updated: Aug 18, 2019 19:15 PM

Bangalore

  • पूर्व सरकार पर नेता, पत्रकार और अधिकारियों के फोन टैप करने के हैं आरोप
  • सोमवार को विधिवत आदेश जारी किए जाएंगे

बेंगलूरु. मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा ने एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली पिछली जनता दल-एस व कांग्रेस गठबंधन सरकार पर नेता, अधिकारियों और पत्रकारों के फोन टैपिंग के आरोपों की केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआइ) से करवाने का निर्णय किया है।

सीएम ने रविवार को बताया कि आरोप गंभीर हैं और तब विपक्ष में रहे भाजपा नेताओं सहित कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धरामय्या ने भी विस्तृत जांच की मांग की है। जांच सीबीआइ को सौंपे जाने के संबंध में सोमवार को विधिवत आदेश जारी किए जाएंगे।

पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता सिद्धरामैया ने राज्य की राजनीति में चर्चा का विषय बने इस मुद्दे पर कहा कि 'फोन टैपिंग, मैं नहीं जानता। उन्हें जांच करने दें और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करें। हालांकि बाद में सिद्धारमैया ने एक ट्वीट कर कहा कि फोन टैपिंग एक गंभीर अपराध है। इस मामले की जांच होनी चाहिए और जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए।

जद-एस से निष्कासित अयोग्य विधायक एएच विश्वनाथ के यह मसला उठाने के बाद भाजपा समेत कांग्रेस के नेताओं ने भी जांच करवाने की बात कही। विश्वनाथ ने सीबीआइ जांच करवाने के निर्णय का स्वागत किया है।