स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बिजली विभाग की बड़ी लापरवाही, 11000 वोल्ट तार टूटने से दो छात्र घायल

Neeraj Patel

Publish: Jul 25, 2019 14:53 PM | Updated: Jul 25, 2019 14:53 PM

Banda

शहरी व गांव क्षेत्रों में झूलते बिजली के तारों से हादसे व मौतों ग्राफ बढ़ता चला जा रहा है।

बांदा. जिले में बिजली विभाग हमेशा से ही अपनी लापरवाही के लिए जाना जाता है। शहरी व गांव क्षेत्रों में झूलते बिजली के तारों से हादसे व मौतों ग्राफ बढ़ता चला जा रहा है। आए दिन बांदा में बिजली के तार टूटने से रास्ते चलते लोगों की जान जा रही है। इस बार बांदा में बिजली विभाग की लापरवाही से शहर के रिहासी इलाके में दो स्कूली छात्रों की जान जाते बची है। बाइक पर सवार होकर स्कूल से लौट रहे दो छात्रों पर 11000 लाइन का तार टूटकर गिर गया, जिससे दोनों छात्र गंभीर रूप से घायल हो गए और बाइक जलकर राख हो गई। राहगीरों ने घायल छात्रों को जिला अस्पताल पहुचाया जहां उनका उपचार किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें - बीमारियों से बचना चाहते हैं तो न खाएं ये चीजें, आयु भी होगी लम्बी

जानिए मामले का पूरा प्रकरण

घटना बांदा शहर कोतवाली क्षेत्र बिजली कोठी तिराहे के पास की है जहां बाइक पर सवार होकर सेंट मेरिज स्कूल के दो छात्र स्कूल से पढाई करके घर वापस आ रहे थे तभी पीली कोठी तिराहे के पास 11000 लाइन का तार टूटकर गिर गया जिससे दोनों छात्र इसकी चपेट में आकर झुलझ गए तथा करंट की चपेट से बाइक धू-२ कर जलने लगी । शहर के भीड़भाड़ वाले इलाके में हुई इस घटना से अफरा-तफरी माहौल हो गया। राहगीरों ने दोनों घायल छात्रों को जिला अस्पताल पहुंचाया व बिजली विभाग को सूचित कर बिजली आपूर्ति बंद कराई।

बिजली विभाग की लापरवाही को लेकर आक्रोश

घटना की सूचना मिलते ही छात्रों के परिजन व पुलिस जिला अस्पताल पहुंची व छात्रों से घटना की जानकारी ली। इस घटना से छात्रों के परिजनों में बिजली विभाग की लापरवाही को लेकर आक्रोश देखने को मिला है। परिजनों ने बताया कि उनके बच्चे सेंट मेरिज स्कूल में पढ़ाई करते हैं, स्कूल से घर लौटते समय 11000 लाइन की चपेट में आने दोनों झुलस गए, घटना की सूचना मिलते ही हम अस्पताल आये है, बिजली विभाग की लापरवाही से यह घटना हुई है और एक बड़ी घटना होते-२ बची है।

ये भी पढ़ें - मेडिकल कालेज में बच्चा चोरी का किया गया प्रयास, अगर आप आ रहे हैं अस्पताल तो हो जाएं सावधान

बांदा जिला अस्पताल के डॉक्टर विनीत सचान ने बताया कि दो स्कूली छात्र घायल अवस्था में अस्पताल में लाये गए है जिनको भर्ती कर उनका उपचार किया जा रहा है। वहीं अगर हम बिजली विभाग की बात करें तो शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली के झूलते हुए तार हर जगह देखने को मिलते है, जिससे आये दिन हादसे हो रहे है, लोगों की जान जा रही है पर बिजली विभाग इस पर अनदेखी किए हुए हैं।