स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Kargil Vijay Diwas 2019: बलरामपुर में लगाए जा रहे कैंम्प, एक हफ्ते तक मनाया जाएगा कारगिल विजय दिवस

Akansha Singh

Publish: Jul 22, 2019 07:32 AM | Updated: Jul 22, 2019 07:32 AM

Balrampur

50वीं वाहिनी एस.एस.बी. बलरामपुर के द्वारा भारत-नेपाल सीमा पर स्थित सभी सीमा चौकियों पर कारगिल विजय दिवस मनाया जा रहा है।

बलरामपुर. 50 वी वाहिनी एस.एस.बी. बलरामपुर के द्वारा भारत-नेपाल सीमा पर स्थित सभी सीमा चौकियों पर कारगिल विजय दिवस मनाया जा रहा है। सीमावर्ती इलाकों में जनजागरण अभियान चला कर लोगों को कारगिल में हुए में हुए घुसपैठ ओर ऑपरेशन, विजय के दौरान शहीद हुए जवानों के बलिदान के बारे में बताया जा रहा है।

50वीं वाहिनी के कार्यवाहक उप कमान्डेंट ब्रजेश सिंह प्रतिहार ने बताया कि वर्ष 1999 में करीब 18 हजार फीट की ऊंची कारगिल की पहाड़ियों पर पाकिस्तानी घुसपैठियों ने अपने नापाक इरादों के साथ कब्जा जमा लिया था और उनको खदेड़ऩे के लिए भारतीय सेना ने 08 मई से 26 जुलाई तक ऑपरेशान विजय चलाया और कारगिल की पहाड़ों पर विजय तिरंगा लहराया, किन्तु मातृभूमि की सेवा करते हुए 527 भारतीय जवान शहीद तथा 1363 जवान घायल हो गये। उनके बलिदानों को स्मरण करते हुए प्रत्येक वर्ष 26 जुलाई के दिन कारगिल विजय दिवस मनाया जाता हैं। इस वर्ष 20 जुलाई से 27 जुलाई तक कारगिल विजय दिवस सप्ताह मनाया जा रहा है।

इस दौरान सीमावर्ती क्षेत्र की विभिन्न स्कूलों में खेलकूद, निबंध लेखन और चित्रकला आदि प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है तथा रैली और मैडिकल कैम्प लगा कर लोगों को इस जनजागरण अभियान का हिस्सा बनाया जा रहा है। लोग इसमें बढ़चढ़ कर भाग ले रहे हैं। आज सीमा चौकी बढ़नी के जवानों ओर स्कूल के बच्चों ओर वहां के आम लोगों के द्वारा एक रैली निकाली गई जो एस.एस.बी.कैम्प से शुरू हो कर रेलवेस्टेशन, बस स्टैंड और बाजार से होते हुए पुलिस चौकी बढ़नी में समापन हुआ। इस रैली में स्कूली बच्चों ने उप कमान्डेंट टी.एच.बसन्ता सिंह और सीमा चौकी प्रभारी निरीक्षक बजरंग लाल के साथ अन्य जवान और महिला बल कर्मियों तथा स्थानीय पुलिस बल के उप निरीक्षक बृजानन्द यादव व उनके साथी जवानों ने बढचढकर भाग लिया।