स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पीएम आवास का लाभ लेने रोजगार सहायक ने पक्का मकान को बताया कच्चा, ग्रामीणों ने जनदर्शन में डीएम से की शिकायत

Bhawna Chaudhary

Publish: Sep 05, 2019 21:00 PM | Updated: Sep 05, 2019 17:00 PM

Baloda Bazar

प्रधानमंत्री आवास में ग्राम के पात्रों को छोडक़र खुद अपने पक्के मकान को कच्चा दर्शाकर राशि स्वीकृत कराने का मामला प्रकाश में आया है।

कसडोल. जनपद पंचायत कसडोल की ग्राम पंचायत हसुवा में रोजगार सहायक द्वारा प्रधानमंत्री आवास में ग्राम के पात्रों को छोडक़र खुद अपने पक्के मकान को कच्चा दर्शाकर राशि स्वीकृत कराने का मामला प्रकाश में आया है। ग्रामीणों ने इसकी शिकायत जनदर्शन में डीएम से की है।

यह है मामला
कसडोल विकासखंड के ग्राम हसुवा में प्रधानमंत्री आवास योजना में गरीब हितग्राही के बजाय ग्राम के ही रोजगार सहायिका ने अपने पिता के नाम फार्र्म भरकर आवास स्वीकृति करा लिया है। जबकि रोजगार सहायिका का खुद का 5-6 कमरों का पक्का मकान निर्मित है। लेकिन प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ लेने के लिए जमा किए फार्म में कच्चा मकान को दर्शाकर शासन को गुमराह किया। जब इस संबंध में जानकारी लेने के लिए रोजगार सहायिका के मोबाइल पर कई बार संपर्क किया गया तो उनके द्वारा कॉल रिसीव नहीं किया गया।

इन्होंने की शिकायत
27 अगस्त को ग्राम के गोरेलाल साहू, रामदुलारी साहू, शैलेश साहू व मोतीलाल साहू ने कलेक्टर जनदर्शन में पहुंच कर डीएम को पूरे मामले की जानकारी देकर लिखित में शिकायत की। जिस पर डीएम ने तत्काल मामले की जांच के लिए जिला सीईओ को स्थानान्तरित कर दिया। शिकायत में ग्रामीणों ने ग्राम के रोजगार सहायक, सचिव व सरपंच को पीएम आवास में स्वीकृत कराने का अहम योगदान बताया।