स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

देवर ने कहा - अब प्रॉपर्टी कर दो मेरे नाम, मना किया तो भाभी और भतीजे पर मिट्टी तेल झिड़क मार दी माचिस

Bhawna Chaudhary

Publish: Aug 27, 2019 09:41 AM | Updated: Aug 27, 2019 09:47 AM

Baloda Bazar

crime in chhattisgarh:संपत्ति विवाद के चलते देवर ने भाभी व भतीजा को (Burnt alive) जिंदा जलाया

सुहेला. एक देवर अपनी भाभी पर संपत्ति (Property dispute) अपने नाम कराने के लिए लगातार दबाव डाल रहा था। भाभी इसके लिए राजी नहीं हुई, तो देवर ने उसे और अपने भतीजे को जिंदा जलाकर (Burnt alive) मार डाला। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।धारा 302 के तहत अपराध (Crime in Chhattisgarh) दर्ज कर पुलिस मामले की विवेचना कर रही है।

संपत्ति को लेकर रोज होता था विवाद
सिमगा टीआई चंद्रा ने बताया कि घरेलू संपत्ति विवाद के चलते देवर लक्ष्मण वर्मा ने अपनी भाभी उर्मिला वर्मा (26) और भतीजा गगन वर्मा (5) को मिट्टी तेल और पेट्रोल डालकर घर में जिंदा जला दिया। आरोपी लक्ष्मण वर्मा 3 भाई थे, जिसमें एक भाई रमेश की मृत्यु 2015 में बीमारी से हो गई थी। दूसरे भाई दुर्गेश वर्मा ने 2009 में जहर खाकर आत्महत्या कर ली थी। आरोपी लक्ष्मण वर्मा ने संपत्ति के लिए हमेशा घर में विवाद करता रहता था।

मृतका उर्मिला वर्मा और पुत्र गगन वर्मा अपने सास- ससुर के साथ ही ग्राम करेली में रहती थी। आरोपी एक महीने पहले से ही साजिश रच रहा था। घर में मिट्टी तेल लाकर रखा था तथा शुक्रवार को पेट्रोल भी लेकर आया था। घर में शराब पीकर सो गया था। रविवार रात एक बजे घटना को अंजाम देने के लिए उसने अपनी भाभी के कमरे में पटाव तोडक़र मिट्टी तेल डाल दिया तथा बाद में पेट्रोल भी डाल दिया और कमरे में आग लगा दी। जिससे दोनों ही घटनास्थल पर ही जलने से मौत हो गई।

पुलिस ने किया गिरफ्तार
सिमगा थाने में घटना के संदर्भ में ग्राम करेली की सरपंच प्रीति दिनेश ध्रुव ने जानकारी दी। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस टीम ग्राम करेली पहुंची। संदेह के आधार पर आरोपी लक्ष्मण वर्मा को सिमगा थाने ले आई। जहां आरोपी ने अपराध कबूल कर लिया। पोस्टमार्टम के लिए दोनो शवों को सिमगा लाया गय। किन्तु यहां पर पीएम न होने के कारण रायपुर भेज दिया गया।