स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

महिला की इन गंदी आदतों से परेशान था 70 साल का आशिक, बेरहमी से हत्या कर बोला- किसी और के साथ भी....

Bhawna Chaudhary

Publish: Oct 15, 2019 13:46 PM | Updated: Oct 15, 2019 13:46 PM

Baloda Bazar

70 साल के आशिक ने अपनी प्रेमिका की बेरहमी से हत्या कर दी है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

पलारी. छत्तीसगढ़ में एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। जहां एक 70 साल के आशिक ने अपनी प्रेमिका की बेरहमी से हत्या कर दी है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जब आरोपी ने इस हत्या का खुलासा करते हुए बताया तो सभी सन्न रह गए जो हुआ...

जानिए पूरा मामला
छत्तीसगढ़ के पलारी ब्लाक के ग्राम साराडीह में सन्तरा बाई पति मिलापराम चतुर्वेदी (50) रविवार को अपने घर से खेत में काम करने के लिए निकली थी। वहीं ग्रामीणों ने महिला को खेत में मृत अवस्था में देखा। सरपंच हेमलाल ध्रुव ने पुलिस को सूचना दी थी ग्राम साराडीह में संतरा बाई चतुर्वेदी की लाश जयसिंह ध्रुव के खेत में पड़ी है। पुलिस मौके पर पहुंचकर हत्या की आशंका के मद्देनजर आरोपी की खोजबीन शुरू कर दी थी। मृतका के पुत्र तुलसी दास चतुर्वेदी की रिपोर्ट पर धारा 302 के तहत जुर्म दर्ज किया गया।

2-3 व्यक्तियों थे अवैध संबंध
साराडीह में रातों रात कैंप लगाकर पृथक-पृथक टीम गठित कर ग्रामवासियों की मदद से पुलिस मृतका के संबंध में जानकारी एकत्र की। मृतका के गांव के ही 2-3 व्यक्तियों के साथ अवैध संबध होने की जानकारी मिलने पर संदेहियों से पूछताछ की गई। तो पता चला की मंगलू राम कोशले पिता स्व. दरवन कोशले (70) के 10-15 साल पहले से मृतका का अवैध संबंध था।

महिला की इन गंदी आदतों से परेशान था 70 साल का आशिक, बेरहमी से हत्या कर बोला- किसी और के साथ भी....

बेरहमी से की हत्या
6 माह पहले से अन्य लोगों से ज्यादा करीबी होने से मंगलूराम नाराज था। घटना के दिन मृतका के अन्य करीबी की हत्या करने के उद्देश्य से मंगलूराम घर से छुरी लेकर निकला था। लेकिन उक्त व्यक्ति खेत नहीं पहुंचा। इसके बाद मंगलू की महिला से विवाद हो गया। जिस पर महिला ने मंगलू को थप्पड़ मार दिया। इससे क्रोधित होकर उसने महिला की छुरी मारकर हत्या कर दी।

हत्या में प्रयुक्त हथियार बरामद
पुलिस ने आरोपी के निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त छुरी व घटना समय पहने कपड़े को आरोपी के घर से जब्त किया। आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में लिया गया, जिसे कल न्यायालय पेश किया जाएगा। अंधे कत्ल की गुत्थी को महज 8 घंटे के भीतर सुलझाने में थाना प्रभारी रोशन सिंह राजपूत. टेकराम साहू, जगदेव कुमार साहू, प्रधान आरक्षक परमानंद रथ, आरक्षक जय कुमार पाल, कमलेश मरावी, अंजोर सिंह मांझी, विसनाथ ध्रुव, प्रदीप केंवट, ओंकार सोनवानी, किशोर मरकाम, चंन्द्राकांत कुर्रे, विजय टोप्पो का विशेष योगदान रहा।