स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

वन विभाग ने छापामार की कार्रवाई, 10 लाख का अवैध काष्ठ और चीतल सिंग किए गए बरामद

Bhawna Chaudhary

Publish: Oct 13, 2019 11:40 AM | Updated: Oct 13, 2019 11:40 AM

Baloda Bazar

ग्राम टुण्डरा एवं मोहतरा में तीन व्यक्ति के घर व परिसर में तलाशी लेकर अवैध काष्ठ और चीतल के सिंग बरामद किए गए। अपराधियों के विरुद्ध वन अधिनियम के तहत कार्रवाई की जा रही है।

कसडोल. वनमंडलाधिकारी द्वारा वन और वन्यप्राणियों की सुरक्षा के लिए कड़े कदम उठाए गए हैं। इसके चलते वन क्षेत्र में गश्त बढ़ा दी गई है। वन मंडलाधिकारी बलौदाबाजार नवमंडल आलोक तिवारी, उप वनमंडलाधिकारी कसडोल उदयसिंह ठाकुर के मार्गदर्शन एवं परिक्षेत्र अधिकारी अर्जुनी टीआर वर्मा के निर्देशन में अर्जुनी परिक्षेत्र के अंतर्गत शुक्रवार को रात्रि में रात्रि गस्त की गई।

शनिवार को सुबह सुबह 8 बजे महराजी क्षेत्र के ग्राम टुण्डरा एवं मोहतरा में तीन व्यक्ति के घर व परिसर में तलाशी लेकर अवैध काष्ठ और चीतल के सिंग बरामद किए गए। अपराधियों के विरुद्ध वन अधिनियम के तहत कार्रवाई की जा रही है।

छापामार कार्रवाई के दौरान भूषण वल्द विश्राम साहू ग्राम टुण्डरा के घर और परिसर से अवैध सागौन एवं मिश्रित काष्ठ बरामद किया गया, जिसकी अनुमानित कीमत लगभग 30 हजार रुपए है। इसी के साथ ही खराद मशीन और बढ़ाईगिरी का सामान जब्त किया गया है।

इसी प्रकार छेड़ूराम वल्द सुकृत देवांगन ग्राम टुण्डरा के घर एवं परिसर में तलाशी लेकर बढ़ईगिरी के समान और एक नग चीतल सिंग लगभग एक लाख 60 हजार रुपए का सागौन और मिश्रित काष्ठ बरामद किया गया है। वहीं धरमलाल वल्द गनेशु घृतलहरे ग्राम मोहतर के घर व परिसर से अवैध रूप से संग्रहित किए गए सागौन लकड़ी कीमत 20 हजार रुपए और बढ़ाईगिरी का सामान जब्त किया गया है। उपरोक्त तीनों प्रकरणों में पृथक-पृथक वन अपराध कायम कर भारतीय वन अधिनियम 1927 एवं वन्यप्राणी (संरक्षण) अधिनियम 1972 के तहत कार्यवाही की जा रही है।