स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अमरकंटक एक्सप्रेस से अचानक गायब हो गया युवक, काफी खोजबीन के बाद गोंदिया में मिला इस हाल में

Akanksha Agrawal

Publish: Jul 15, 2019 15:36 PM | Updated: Jul 15, 2019 15:36 PM

Baloda Bazar

अमरकंटक एक्सप्रेस से रायपुर की ओर जा रहा युवक अचानक गायब हो गया। काफी खोजबीन के बाद दोपहर को वह गोंदिया में बेहोशी की हालत में मिला।

नवापारा-राजिम/ तिल्दा-नेवरा. तिल्दा-नेवरा स्टेशन में रविवार की सुबह एक अजीबोगरीब घटना देखने को मिली। अमरकंटक एक्सप्रेस से रायपुर की ओर जा रहा युवक अचानक गायब हो गया। काफी खोजबीन के बाद दोपहर को वह गोंदिया में बेहोशी की हालत में मिला।

मिली जानकारी के अनुसार नवापारा नगर सिंध समाज के वरिष्ठ नागरिक गोविंद राजपाल का पुत्र प्रवेश राजपाल (21) पिछली बुधवार को अपने 5-6 दोस्तों के साथ पचमढ़ी सैरसपाटे के लिए गया हुआ था। शनिवार दोपहर उन्होंने वापसी की ट्रेन पकड़ी थी। सभी अमरकंटक एक्सप्रेस की स्लीपर कोच एस 13 में सवार थे। रविवार सुबह 6 बजे जब ट्रेन तिल्दा स्टेशन पहुंचने वाली थी, उसी समय प्रवेश दोस्तों से दूसरे कोच से बाथरूम निपटकर आने की बात कहकर निकला, जो वापिस नहीं आया। ट्रेन जब चल पड़ी तो उसके दोस्तों ने आरपीएफ के जवानों को इसकी जानकारी दी, जिस पर उन्होंने प्रवेश के युवा होने और वापिस आ जाने की बात कहकर टाल दिया।

दुर्ग पहुंचने के बाद उसके दोस्तों ने हर बोगी में छानबीन की, लेकिन प्रवेश का कहीं पता नहीं चला। इसके बाद तय हो गया कि प्रवेश के साथ कोई अनहोनी हो गई है। दोस्तों ने प्रवेश के परिजनों को मोबाइल पर इसकी जानकारी दी। कुछ ही देर में बात समूचे नगर में फैल गई और सोशल मीडिया के माध्यम से प्रवेश के गुमशुदगी की जानकारी भेजते हुए अपील की जाने लगी। साथ ही उसके परिजन तिल्दा पुलिस के अलावा रायपुर में भी हाथ-पैर मारने लगे।

मारपीट करने की भी आशंका
प्रारंभिक तौर पर जानकारी मिल रही है कि प्रवेश को नशीली चीज सुंघाने के बाद बेहोश होने पर उसे ट्रेन से उतारकर दूसरी जगह ले गए, जहां उसके साथ मारपीट करते हुए संभवत: उसकी सोने की अंगूठी, सोने की चैन और नकदी रकम छीन लिए और फिर उसके बेहोश होने पर उसे दूसरी ट्रेन में बिठा दिया गया, जो उसे लेकर रायपुर या दुर्ग की जगह गोंदिया लेकर
पहुंच गई।

गोंदिया स्टेशन से अपने मामा को फोन किया
दोपहर ढाई बजे परिजनों को गोंदिया स्थित उनके रिश्तेदारों ने प्रवेश के मिलने की खबर देते हुए बताया कि प्रवेश नशे में बुरी तरह बेसुध है। जिसने बताया है कि कुछ अज्ञात युवकों ने उसे कुछ सूंघा दिया था, जिसके बाद उसे कुछ याद नहीं। गोंदिया स्टेशन पर कुछ लोगों ने उस पर पानी छिडकक़र होश में लाया, तब उसे थोड़ा-बहुत होश आया। जिसके बाद उसने किसी के फोन से गोंदिया में ही रहने वाले अपने मामा को वस्तुस्थिति से अवगत कराया। उसके ममेरे रिश्तेदार स्टेशन पहुंचे और उसके हालत को देखते हुए अस्पताल में उपचार के लिए ले गए हैं।

तुलसी गांव में बंद हुआ है युवक का फोन
बताया जाता है कि प्रवेश का फोन सुबह 6 बजकर 20 मिनट पर तिल्दा से 6-7 किमी. दूर ग्राम तुलसी के किसी साहू परिवार के निवास के पास बंद हुआ है। ऐसे में अंदाजा लगाया जा रहा है कि प्रवेश के साथ वारदात को अंजाम देने वालों का संबंध उस गांव से हो। बहरहाल अपने साथ हुई घटना और नशीली दवा के असर से प्रवेश अभी बेसुध अवस्था में है और बेहद डरा हुआ है, जिसके चलते उससे और अधिक जानकारी नहीं मिल पाई है।

 

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News

एक ही क्लिक में देखें Patrika की सारी खबरें