स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बैनर-पोस्टर के अलावा सोशल मीडिया पर प्रचार हुआ तेज

Chandra Kishor Deshmukh

Publish: Dec 09, 2019 08:20 AM | Updated: Dec 08, 2019 23:51 PM

Balod

नगरीय निकाय चुनाव में मतदान के लिए सिर्फ 12 दिन बचे हैं। इतने ही दिन उम्मीदवारों को प्रचार करने का समय मिलेगा। जिले के दो नगर पालिका और छह नगर पंचायत के 137 वार्डों के पार्षद पद पर चुनाव के लिए नामांकन की स्क्रूटनी के बाद उम्मीदवार प्रचार में जुट गए हैं।

बालोद @ patrika. नगरीय निकाय चुनाव में मतदान के लिए सिर्फ 12 दिन बचे हैं। इतने ही दिन उम्मीदवारों को प्रचार करने का समय मिलेगा। जिले के दो नगर पालिका और छह नगर पंचायत के 137 वार्डों के पार्षद पद पर चुनाव के लिए नामांकन की स्क्रूटनी के बाद उम्मीदवार प्रचार में जुट गए हैं।

वाट्सऐप ग्रुप में भी कर रहे प्रचार
इस बार के चुनाव में पोस्टर-बैनर, फ्लेक्स के अलावा सोशल मीडिया पर भी प्रचार किया जा रहा है। लोगों के वाट्सऐप ग्रुप में भी प्रत्याशी अपने नाम, वार्ड नंबर सहित चुनाव चिन्ह का प्रचार-प्रसार कर रहे हैं। इनमें भाजपा, कांग्रेस के अलावा निर्दलीय उम्मीदवार भी शामिल हैं।

आज नाम वापसी के बाद तेजी आएगी प्रचार
जिले के सभी आठ नगरीय निकायों में पार्षद पद के लिए 496 नामांकन फार्म जमा हुए हैं। सभी उम्मीदवारों को नाम वापसी का इंतजार है। नाम वापसी के बाद अधिकृत प्रत्याशियों की तस्वीर साफ हो जाएगी। इसके बाद प्रचार-प्रसार में तेजी आएगी। 9 दिसंबर को ही नाम वापसी की अंतिम तारीख है। दोपहर तीन बचे तक ही नाम वापस ले सकेंगे। इसके पहले निर्दलीयों और बागवत करने वाले कार्यकर्ताओं का मान मनौव्वल का क्रम जारी है। अपने पक्ष और समर्थन में नाम वापस करवाने में कई उम्मीदवार लगे हुए हैं।

सोशल मीडिया में सक्रिय
बालोद नगर पालिका के भाजपा-कांग्रेस के उम्मीदवार सोशल मीडिया में खूब प्रचार-प्रसार कर रहे है। नाम वापसी के बाद उम्मीदवार वार्डों में सक्रिय होंगे। अभी सोशल मीडिया तक ही सक्रियता बनी हुई है।

नुक्कड़ सभा के माध्यम से रिझाएंगे मतदाताओं को
विधानसभा, लोकसभा की तर्ज पर कांग्रेस भाजपा सहित निर्दलीय वार्डों में बैठकें लेकर रणनीति बनाने में लगे हैं। मतदाताओं को रिझाने के लिए नुक्कड़ सभा व स्टार प्रचारक को बुलाने की रणनीति भी बनाई जा रही है।

देर रात तक बागी मनाने में लगे रहे पार्टी के दिग्गज
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार को नाम वापसी है और ऐसे में टिकट नहीं मिलने से नाराज भाजपा कांग्रेस के दिग्गज कार्यकर्ताओ ने बगावती तेवर अपनाते हुए बतौर निर्दलीय चुनाव में ताल ठोक दिए हैं। ऐसे लोगों को मनाने पार्टी के अधिकृत प्रत्याशियों के लिए चुनौती होगी। रविवार की रात दोनों पार्टी के पदाधिकारी और दिग्गज बागियों को मनाने में लगे रहे। बागियों के तेवर नरम पड़े या नहीं कल नाम वापसी के बाद स्पष्ट हो जाएगा।

[MORE_ADVERTISE1]