स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बारिश को देखते हुए मजबूरी में मशीन से कटाई करा रहे किसान

Chandra Kishor Deshmukh

Publish: Oct 21, 2019 08:23 AM | Updated: Oct 20, 2019 22:58 PM

Balod

बालोद जिले में अर्ली वेरायटी किस्म के धान की कटाई प्रारंभ हो गई है। किसान और मजदूर खेतों में धान कटाई में जुट गए हैं। मौसम को देखते हुए किसान चिंतित भी नजर आ रहे हैं।

बालोद @ patrika. जिले में अर्ली वेरायटी किस्म के धान की कटाई प्रारंभ हो गई है। किसान और मजदूर खेतों में धान कटाई में जुट गए हैं। मौसम को देखते हुए किसान चिंतित भी नजर आ रहे हैं।

अर्ली प्रजाति के धान की फसल पककर तैयार
खेतों में अर्ली प्रजाति के धान की फसल पककर तैयार है। बारिश को देखते हुए मजबूरी में मशीन से फसल की कटाई करवा रहे हैं। वहीं लेट से पकने वाली फसल में कीट प्रकोप से किसान परेशान हैं। भूरा माहो और तनाछेदक फसल को खराब कर रहे हैं। खेतों में अब किसानों को पानी की जरूरत भी नहीं है।

मवेशियों से हलकान
किसान गांवों में घूमने वाले मवेशियों से परेशान है। खेतों में खड़ी फसल के मवेशी चर रहे हैं। गौ पालक अपने मवेशियों को खुले में छोड़ देते हैं जो खेतों में जाकर फसल को नुकसान पहुंचा रहे हैं।

जमीन गीली होने से कटाई में दिक्कत
तांदुला जलाशय से नहर में अब भी पानी किया जा रहा है। जमीन गीली होने से फसल कटाई में दिक्कत हो रही है। कई किसान खेतों में भरे पानी को निकाल रहे हैं ताकि जमीन सूख जाए और फसल की कटाई कर सके। कई खेतों में धान की फसल गिरने से धान की बालियां खराब होने का डर किसानों को सताने लगा है।