स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पक्के आवास का सपना कहीं सपना ही ना रह जाए, 4 माह से नहीं मिली राशि

Chandra Kishor Deshmukh

Publish: Jan 11, 2020 23:08 PM | Updated: Jan 11, 2020 23:08 PM

Balod

बालोद जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना का बुरा हाल है। हितग्राहियों को आवास बनाने के लिए एक किस्त जारी होने के बाद बीते चार माह से दूसरी किश्त जारी नहीं हुई है। इससे हितग्राही आवास नहीं बना नहीं पा रहे हैं।

बालोद @ patrika . जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना का बुरा हाल है। हितग्राहियों को आवास बनाने के लिए एक किस्त जारी होने के बाद बीते चार माह से दूसरी किश्त जारी नहीं हुई है। इससे हितग्राही आवास नहीं बना नहीं पा रहे हैं। पहली किश्त जारी होने के बाद आवास निर्माण के लिए नींव खुदाई और बीम की ढलाई में राशि खर्च हो गई। इसके बाद निर्माण के लिए दीवार खड़ी करने हितग्राहियों के पास राशि नहीं है। बीते चार माह से दूसरी किश्त का इंतजार कर रहे हैं। जिले में 7 हजार प्रधानमंत्री आवास का निर्माण रुक गया है।

तोड़ दिए पुराने मकान, अब दूसरे के घरों में आश्रय
जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत कई ऐसे हितग्राही है जिन्होंने आवास बनाने के लिए पुराने कच्चे मकानों को तोड़ दिए है। निर्माण में देरी के कारण समस्या और बढ़ गई है। कई हितग्राही दूसरे के घरों में आश्रय ले रहे है।

दूसरी किश्त का इंतजार
प्रधानमंत्री आवास विभाग के मुताबिक जिले में साल 2019-2020 के लिए कुल 7 हजार हितग्राहियों का आवास बनाना है। इन हितग्राहियों को आवास निर्माण के लिए मिलने वाली राशि का इंतजार कर रहे है। जिले में कई ऐसे हितग्राही है जिन्होंने आवास बनाने स्वयं की राशि खर्च कर दिए हैं। विभाग से राशि नहीं मिलने के कारण अब चिंतित है।

राशि आने के बाद करेंगे जारी
इस मामले में प्रधानमंत्री आवास प्रभारी प्रभाष कुमार ने बताया शासन से पहली किस्त की राशि जारी हुई थी। उसे हितग्राहियों के खाते में डाल दी गई है। दूसरी किश्त अभी नहीं आई है। राशि आने के बाद हितग्राहियों के खाते में डाल दी जाएगी।

चार किश्त में मिलती है राशि
मिली जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री आवास के लिए सरकार चार किश्तों में राशि जारी करती है। पहली किस्त मकान तोडऩे के बाद, दूसरी छज्जा लेबल तक, तीसरी छत ढलाई और चौथी किश्त मकान पूर्ण होने के बाद मिलती है। यहां पहली किश्त के बाद राशि ही नहीं मिली है। अक्टूबर में पहली किश्त की राशि जारी हुई थी। उसके बाद से राशि नहीं मिली है।

किस ब्लॉक में कितने आवास
ब्लॉक - हितग्राही
बालोद - 1050
गुरुर - 1390
गुंडरदेही - 1510
डौंडी - 1250
डौंडीलोहारा - 1800

[MORE_ADVERTISE1]