स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

फेंसिंग तार चोरी करने वाले दो आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल

Chandra Kishor Deshmukh

Publish: Oct 23, 2019 08:25 AM | Updated: Oct 22, 2019 23:28 PM

Balod

फसल की सुरक्षा के लिए खेत में रखा एक बंडल फेंसिंग तार को चोरी करने वाले दो आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। मामला 20 अक्टूबर को देवरी थाना अंतर्गत ग्राम राधे नवागांव का है।

बालोद @ patrika . फसल की सुरक्षा के लिए खेत में रखा एक बंडल फेंसिंग तार को चोरी करने वाले दो आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। मामला 20 अक्टूबर को देवरी थाना अंतर्गत ग्राम राधे नवागांव का है। किसान रामविलास सहारे ने 19 अक्टूबर को अपने खेत की सुरक्षा घेरा के लिए फेंसिंग तार को खेत के मेड़ में छोड़ दिया था। दूसरे दिन फेंसिंग तार गायब हो गया था। उन्होंने तार चोरी की सूचना 20 अक्टूबर को पुलिस को दी। पुलिस आसपास के गांवों में पतासाजी कर रही थी।

चोरी के तार को दोस्त के घर छुपा दिया था
21 अक्टूबर की रात गांव के घनश्याम ढलेन्द्र 45 साल के घर छापामार की। उन्होंने चोरी के तार को दोस्त के घर छुपाने की बात कही। आरोपी ने अपने दोस्त हेमंत के घर पुलिस को ले गया जहां खटाल से तार को बरामद किया गया। पुलिस ने दोनों आरोपी घनश्याम व हेमंत को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

मोबाइल चोरी काआरोपी पांच माह बाद डोंगरगढ़ से पकड़ाया
बालोद @ patrika . चोरी के वारदात के पांच महीने बाद जिला पुलिस ने आरोपी को डोंगरगांव से गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के अनुसार ग्राम ओरमा निवासी विष्णुराम बुधवारी बाजार आया था, तभी किसी के जेब से मोबाइल चोरी कर ली थी। बालोद पुलिस ने बिहार राज्य के सुपौल जिला अंतर्गत ग्राम लालपुर निवासी आरोपी कामेश 35 साल को डोंगरगांव से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने चोरी की राजनांदगांव जिले के ग्राम रातापॉली निवासी रामेश्वर निषाद को बेच दिया था। बालोद पुलिस ने रविवार को आरोपी कामेश व चोरी का मोबाइल खरीदने वाले रामेश्वर निषाद को धारा 379, 411, 34 के तहत कार्रवाई कर जेल भेज दिया है।

फेंसिंग तार चोरी करने वाले दो आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल

सागौन चिरान से भरा वाहन पकड़ाया, दो लोग मौके से फरार
डौंडीलोहारा @ patrika . वनांचल क्षेत्र खोलझर मोड़ के पास बीती शनिवार रात 9 बजे के आसपास वन विभाग की टीम ने सागौन चिरान से भरा वाहन सीजी 24 ई 1110 को पकड़ा गया। सहायक वन परिक्षेत्र अधिकारी अज्ञेय ठाकुर ने बताया कि रात में के दौरान ग्राम खोलझर मार्ग पर, खोलझर मोड़ के पास एक महिंद्रा पिकअप वाहन को पूछताछ के लिए रोका गया। वाहन में सवार दो व्यक्ति अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गया व वाहन चालक डौंडीलोहारा निवासी देवलाल ठाकुर पकड़ में आ गया।

चालक के पास नहीं मिला कोई वैध दस्तावेज
वाहन चालक ने बताया कि चिरान लकड़ी को सोरली निवासी गणेशराम नाई की बुकिंग पर ग्राम नलपानी से ग्राम सिरपुर नलपानी ले जा रहे थे। चालक के पास सागौन लकड़ी परिवहन से संबंधित कोई भी वैध दस्तावेज नहीं थे। वाहन के साथ जब्त सागौन को भी डौंडीलोहारा लाया गया है। कुल 41 नग सागौन चिरान जब्त की गई है जिसकी कुल मात्रा 11.55 घन मीटर और लागत राशि लगभग 50 हजार रुपए आंकी गई है। इस कार्रवाई में वनरक्षक तुलसी राम पिस्दा, राजेश निषाद, जीवराखन साहू, वासुदेव गंधर्व शामिल थे।