स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नाबालिग बेटी का इलाज कराने पहुंचे थे अस्पताल, जब डॉक्टरों ने बताया प्रेंग्नेंट है लड़की तो माता-पिता के उड़ गए होश

Dakshi Sahu

Publish: Oct 19, 2019 12:30 PM | Updated: Oct 19, 2019 12:30 PM

Balod

मेडिकल कॉलेज अस्पताल राजनांदगांव में बालोद जिले के डौंडीलोहारा क्षेत्र से पेट दर्द की शिकायत पर इलाज कराने पहुंची एक नाबालिग के पेट में गर्भ होने का मामला सामने आया है। (Balod crime news)

बालोद. मेडिकल कॉलेज अस्पताल राजनांदगांव (Rajnandgaon medical collge) में बालोद जिले के डौंडीलोहारा क्षेत्र से पेट दर्द की शिकायत पर इलाज कराने पहुंची एक नाबालिग के पेट में गर्भ होने का मामला सामने आया है। इलाज के दौरान अस्पताल में ही एबार्शन (abortion in Balod) हो गया है। इस मामले में बसंतपुर थाने में शून्य में पाक्सो एक्ट (Pasco Act) के तहत मामला दर्ज करने की कार्रवाई देर रात तक चल रही थी।

Read more: लव मैरिज कर घर लौटी बेटी, बौखलाए पिता ने समंधी को पहले पीटा फिर मल खिलाकर कर दी खातिरदारी ...

नाबालिग थी गर्भवती (pregnant girl)
अस्पताल के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बालोद जिले के डौंडीलोहारा क्षेत्र से एक नाबालिग को उसके परिजन पेट दर्द की शिकायत पर मेडिकल कालेज अस्पताल लेकर पहुंचे थे। अस्पताल में जांच के दौरान पता चला कि नाबालिग के गर्भ में बच्चा है। इसी दौरान पीडि़त नाबालिग को झटका आया और चिकित्सकों ने उसके जीवन की रक्षा करने एबार्शन करने का कदम उठाया।

इसलिए उठाया एबार्शन का कदम
अस्पताल से मिली जानकारी के मुताबिक नाबालिग के गर्भ में मौजूद बच्चा पूरी तरह विकसित नहीं हुआ था और गर्भ धारण कर समय भी पूरा नहीं हुआ था। ऐसे में नाबालिग की जान बचाने एबार्शन का कदम उठाया गया।

नाबालिग के गर्भ में बच्चा मिलने की जानकारी होने के बाद चाइल्ड लाईन की टीम अस्पताल पहुंच गई थी। बाल कल्याण समिति को भी खबर की गई। जानकारी के अनुसार इस संबंध में नाबालिग फिलहाल किसी तरह की जानकारी नहीं दे पा रही है। चूंकि मामला नाबालिग से जुड़ा हुआ है। ऐसे में मामले को पुलिस के पास भेजा गया है।

पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज
जानकारी के अनुसार बसंतपुर थाना में शून्य कायमी में पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज करने की कार्रवाई की जा रही है। यहां मामला दर्ज होने के बाद जांच के लिए प्रकरण डौंडी लोहारा थाने भेजा जाएगा। थाना प्रभारी बसंतपुर राजेश साहू ने बताया कि अस्पताल चौकी से मामला आया है। पाक्सो एक्ट के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया जा रहा है। इसकी जांच डौंडी लोहारा पुलिस करेगी।