स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पत्नी मायके चली गई है तो कोई बात नहीं, यहां मिलेगा आपको सबकुछ

Chandra Kishor Deshmukh

Publish: Jul 21, 2019 08:06 AM | Updated: Jul 21, 2019 00:25 AM

Balod

अब बालोद के नया बस स्टैंड के रैन बसेरा में मिलेगा सस्ते दाम पर छत्तीसगढ़ी व्यंजन। यहां छत्तीसगढ़ की प्रसिद्ध चीला, फरा, ठेठरी, खुरमी, अइरसा, सोहारी, कठवा सहित 34 प्रकार के व्यंजन मिलेंगे। इसकी शुरुआत शनिवार को की गई। इस भोजनालय का नाम गढ़ कलेवा रखा गया है।

बालोद @ patrika. अब बालोद के नया बस स्टैंड के रैन बसेरा में मिलेगा सस्ते दाम पर छत्तीसगढ़ी व्यंजन। यहां छत्तीसगढ़ की प्रसिद्ध चीला, फरा, ठेठरी, खुरमी, अइरसा, सोहारी, कठवा सहित 34 प्रकार के व्यंजन मिलेंगे। इसकी शुरुआत शनिवार को की गई। इस भोजनालय का नाम गढ़ कलेवा रखा गया है। भोजनालय खुलने के दिन से यहां लोगों की भीड़ देखने की मिली। आज इस कार्यक्रम का सादे समारोह में शुभारंभ किया गया।

स्व सहायता समूह को दी जिम्मेदारी
स्थानीय संगठन के अनुग्रह पर पालिका अध्यक्ष विकास चोपड़ा, उपाध्यक्ष पदमिनी साहू, पार्षद भोलू महाराज एवं कसीमुद्दीन ने स्व सहायता समूह की महिलाओं के साथ 33 व्यंजनों का स्वाद चखकर इसका शुभारंभ किया। गढ़ कलेवा का संचालन दीनदयाल अंत्योदय योजना- राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन अंतर्गत बंजारी मां क्षेत्रीय संगठन द्वारा किया जा रहा है।

यह सामग्री मिलेगी
यहां पर चीला, बरा, बबरा, अरसा, फरा, दूधफरा, भजिया, गुलगुला भजिया, बरौनी, शक्कर पारा, चौलाई भाजी, ठेठरी खुरमी, कुसली आदि छत्तीसगढ़ी व्यंजन बहुत कम दाम पर उपलब्ध रहेंगे। गढ़ कलेवा में सुबह 9 से रात 8 बजे तक भोजन एवं नाश्ते की सुविधा मिलेगी।

Read more : नव विवाहिता ने थानेदार से कहा, साहब... मुझे मेरे पति से बचा लीजिए, बनाता है अप्राकृतिक संबंध, हर दिन करता है यही डिमांड

कलक्टर के मार्गदर्शन में गढ़ कलेवा की शुरुआत
कार्यक्रम में सिटी मिशन मैनेजर शरद कुमार सिंह ने बताया कि कलक्टर रानू साहू के मार्गदर्शन में गढ़ कलेवा की शुरुआत की जा रही है। कार्यक्रम में सामुदायिक संगठक भूमिका श्याम कुंवर चित्ररेखा साहू, पुनेश्वरी साहू, पूर्णिमा चंद्राकर योगेंद्र कमला चंद्राकर, शकुन गौतम, अनिता देशमुख, रेणुका निर्मलकर, संतोष यादव, संतोषी मुरलिया, सुनीता यादव, सुलोचना यादव, बसंती साहीरो, किरण साहू, सुरेखा साहू आदि उपस्थित थे।