स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बीजेपी विधायक का थप्पड़ कांड, मामले को दबाने में जुटे अधिकारी, पीड़ित से ही...

Akhilesh Kumar Tripathi

Publish: Jul 05, 2019 22:38 PM | Updated: Jul 05, 2019 22:38 PM

Ballia

बेल्थरा रोड से भाजपा विधायक धनंजय कन्नौजिया अपने कार्यशैली को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहा करते हैं

बलिया. गेस्ट हाउस में कमरा नहीं मिलने से नाराज होकर चपरासी को थप्पड़ मारने वाले बीजेपी विधायक धनंजय कन्नौजिया और कर्मचारी के बीच सुलह हो गई है, कहा जा रहा है कि बीजेपी विधायक ने इस घटना को लेकर माफी मांगी है, हालांकि बीजेपी विधायक मीडिया से बातचीत में ऐसी कोई घटना होने से इनकार कर रहे हैं । पीडब्लयूडी के कर्मचारी ने मामले में कोई शिकायत नहीं दर्ज कराई है, यह भी चर्चा है कि पीड़ित से ही इस मामले में चुप्पी साधने के लिये कागज पर लिखवाया गया है । हालांकि मामले को लेकर जिस तरह से दबाने का प्रयास किया जा रहा है, उसको लेकर सवाल भी उठने लगे हैं ।


बेल्थरा रोड से भाजपा विधायक धनंजय कन्नौजिया अपने कार्यशैली को लेकर हमेशा सुर्खियों में रहा करते हैं, भाजपा कार्यकर्ताओं व समर्थकों के साथ इनकी हमेशा से ही अनबन होती रही है । नगर पंचायत अध्यक्ष दिनेश कुमार गुप्ता से भी इनका लंबे समय तक अदावत रहा है । सरस्वती शिशु मंदिर के एक कार्यक्रम के दौरान भाजपा के स्थानीय नेता विनय सिंह से इनका संघर्ष चर्चा में रहा है ।
बेल्थरा रोड स्थित उच्चीकृत स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा अधीक्षक डॉ जी पी चौधरी को उनके कार्यालय में पिटाई करने का मामला भी चर्चा में रहा था, तत्कालीन जिलाधिकारी सुरेंद्र विक्रम के मध्यस्थता के बाद तत्कालीन पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार के सरकारी आवास पर विधायक ने माफी मांगकर मामला खत्म किया था ।


बता दें कि बलिया के बेल्थरा रोड से बीजेपी विधायक धनंजय कन्नौजिया पर पीडब्लयूडी के चपरासी को सरेआम थप्पड़ जड़ने का आरोप लगा है । चपरासी का कसूर इतना था कि उसने गेस्ट हाउस में कमरे देने में असमर्थता जताई थी। पीडब्लयूडी गेस्ट हाउस के चपरासी रामकेश का कहना था कि विधायक ने जब कमरे की मांग कि तो उसने माननीय उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के लिए सारे कमरे बुक होने की बात कही और विभागीय कमरा देने से इनकार कर दिया। उसके बाद गुस्से में विधायक ने उसे थप्पड़ जड़ दिया। हालांकि चपरासी रामकेश अब पूरे मामले में बयान से पलट गया है और इस मामले को खत्म करने की बात कह रहा है ।

 

 

देखें वीडियो, घटना के बाद चपरासी ने लगाया था आरोप