स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

BIG BREAKING जमीन विवाद की सूचना पर पहुंची पुलिस पर ईंट पत्थरों से किया हमला

Ashish Kumar Shukla

Publish: Jul 21, 2019 22:18 PM | Updated: Jul 21, 2019 22:18 PM

Ballia

घायल दरोगा व महिला कांस्टेबल का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकन्दरपुर में कराया गया

बलिया. जिले के सिकन्दरपुर थाना क्षेत्र के सिसोटार गांव में रविवार की शाम जमीन के विवाद की सूचना पर पहुंची पुलिस पार्टी एक पक्ष की महिलाओं ने ईंट पत्थर से हमला कर दिया। इस हादसे में एक एसआई का सिर फट गया है वहीं दो महिला कांस्टेबल को भी चोटिल होने की बात सामने आ रही है। हमले के बाद किसी तरह से पुलिस टीम जान बचाकर भागने में कामयाब रही। नहीं तो किसी बड़े घटना से इनकार नहीं किया जा सकता था। घायल दरोगा व महिला कांस्टेबल का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकन्दरपुर में कराया गया।

सिसोटार गांव निवासी उपेन्द्र राय व उसी गांव के बालेश्वर पासवान के बीच जमीन का विवाद था दोनों पक्ष के सहमति के बाद उपजिलाधिकारी के निर्देश पर उक्त जमीन की पैमाइश राजस्व विभाग व चकबंदी विभाग की टीम के द्वारा किया गया था और रिपोर्ट उप जिला अधिकारी को दी गई थी। उप जिलाधिकारी के निर्देश पर ही उपेन्द्र राय द्वारा विगत 15 दिनों पहले से बाउंड्री का काम भी शुरू किया गया तीन तरफ से बाउंड्री हो जाने के बाद जब आगे की बाउंड्री शुरू हुई तो दूसरे पक्ष के लोगों ने विरोध शुरू कर दिया।
जिसके बाद उपेन्द्र राय द्वारा इसकी सूचना उपजिलाधिकारी व पुलिस को दी गई सूचना पाकर पुलिस जब मौके पर पहुंची और काम रोकने से मना किया तो महिलाएं उग्र हो गई। इसी दौरान दरोगा लाल साहब गौतम महिला कांस्टेबल पल्लवी गुप्ता व प्रतीक्षा समझाने लगे तो महिलाएं महिला कांस्टेबल का बाल पकड़ कर जमीन पर पटक दीं। उसको छुड़ाने गए दरोगा पर भी पत्थर से हमला कर दिया गया। घटना देख अन्य पुलिसकर्मी भी बचाने के लिए दौड़े तो उनके ऊपर भी पत्थर चलाना शुरू कर दी।
पुलिस वहां से किसी तरह जान बचाकर पीछे हट गई और पूरी घटना की जानकारी उच्चाधिकारियों को दिया। सूचना पर उपजिलाधिकारी सिकन्दरपुर राजेश कुमार यादव भी मौके पर पहुंच गए और घायल दरोगा व महिला कांस्टेबलों का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकन्दरपुर में कराया गया देर शाम पुलिस मुकदमा पंजीकृत करने की कार्रवाई में जुटी रही।