स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जिला बदर कुशनाजी को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पहुंचा जेल

Bhaneshwar Sakure

Publish: Sep 18, 2019 21:14 PM | Updated: Sep 18, 2019 21:14 PM

Balaghat

कलेक्टर के आदेश का पालन नहीं करने पर पुलिस ने की कार्रवाई

बालाघाट. लालबर्रा थाना क्षेत्र के ग्राम कटंगटोला निवासी कुशनाजी देउरकर को कलेक्टर के आदेश का पालन न करने के जुर्म में लालबर्रा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। कुशनाजी देउरकर को 18 सितम्बर को न्यायालय के समक्ष पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
थाना प्रभारी एमआर रोमड़े ने बताया कि 27 जुलाई को कलेक्टर द्वारा अनेक प्रकरणों में लिप्त कटंगटोला निवासी कुशनाजी देउरकर पर जिला बदर की कार्रवाई की गई थी। उसे जिला छोडऩे के लिए आदेशित किया था। साथ ही वे समीपस्थ जिला सिवनी, डिंडौरी व छिन्दवाड़ा को छोड़ अन्य जिलों पर एक माह तक रह सकता है। लेकिन कुशनाजी देउरकर ने कलेक्टर के आदेश का माखौल उड़ाकर गांव व जिले में ही निवासरत था। थाना प्रभारी रोमड़े ने बताया कि उक्त आरोपी पर एसपी अभिषेक तिवारी द्वारा 10 हजार का इनाम घोषित किया गया था। 17 सितम्बर की शाम मुखबिर से सूचना मिली की आरोपी घर पर है, जिसे कलेक्टर के आदेश का उल्लंघन करने के आरोप पर मध्यप्रदेश राज्य अधिनियम की धारा 14 के तहत गिरफ्तार किया गया। आवश्यक कार्रवाई कर 18 सितम्बर को न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। इस कार्रवाई में थाना प्रभारी एमआर रोमड़े, एएसआई राजिक सिद्दिकी, प्रधान आरक्षक मिल्कीराम सोनेकर, दारासिंह बघेल, शहजाद मंसूरी, दीनू बघेल, पुष्पेन्द्र सिंह रावत का योगदान रहा।