स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

फैंसी डे्रस में नन्हे मुन्हे बच्चों ने मोहा मन

Mukesh Yadav

Publish: Sep 19, 2019 19:27 PM | Updated: Sep 19, 2019 19:27 PM

Balaghat

बडग़ांव एवं हिर्री में 261 बालिकाओं का हिमोग्लोबिन टेस्ट

बालाघाट. शासन के निर्देशानुसार महिला एवं बाल विकास विभाग शहरी परियोजना के अंतर्गत आंगनवाड़ी केन्द्र क्रमांक ५६ में गुरूवार को फैंसी डे्रस काम्पीटिशन का आयोजन किया गया। इस दौरान विशेष व आकर्षक परिधानों में सजकर केन्द्र पहुंचे नन्हें मुन्हों बच्चों ने सभी उपस्थित लोगों का मन मोह लिया। सभी ने आकर्षक विशभूषा में अपना परिचय दिया और जनजागरूकता का परिचय भी दिया। इस दौरान शहरी परियोजना अधिकारी दिनेश शर्मा के निर्देशन व सुपरवाईज दीपिका चौहान के मार्गदर्शन में हुए इस कार्यक्रम में कार्यकर्ता अनिता सोनवाने सहित बड़ी संख्या में हितग्राहीजन उपस्थित रहे।
इसी तरह राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आंगनवाड़ी केन्द्रों के माध्यम से विभिन्न कार्यक्रमों का सतत आयोजन किया जा रहा है। इसके साथ स्कूलों एवं कालेजों में किशोरी बालिकाओं का हिमोग्लोबिन टेस्ट भी किया जा रहा है। गत दिवस किरनापुर विकासखंड के ग्राम बडग़ांव में स्व. दिलीप भटेरे कला व वाणिज्य महाविद्यालय में 126 बालिकाओं का हिमोग्लोबिन एचबी टेस्ट स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से किया गया। कार्यक्रम में बालिकाओं ने उत्साह के साथ अपना एचबी टेस्ट कराया।
बडग़ांव के कालेज में एएनएम नागवंशी व श्यामकुंवर द्वारा किया गया एवं आशा सहयोगी नीलिमा चौहान, आशा कार्यकर्ता सुनिता बीरनवार, यमुना सिहोरे ने भी इस कार्य में सहयोग प्रदान किया। इस अवसर पर महिला बाल विकास विभाग से उपस्थित पर्यवेक्षक बिसेन व समोता मस्करे व आंगनवाड़ी कार्यकर्ता द्वारा पोषण प्रदर्शनी लगाकर बालिकाओं को पोषण आहार के विषय में जानकारी दी गई।
इसी प्रकार शासकीय कन्या महाविद्यालय हिर्री में 135 बालिकाओं का एचबी टेस्ट एएनएम आरएम बोरकर व अंजला गजभिए द्वारा किया गया और इस कार्य में आशा कार्यकर्ता सरस्वती पिछोड़े, अनीता हुमने ने सहयोग प्रदान किया। इस अवसर पर हिर्री सेक्टर की पर्यवेक्षक व कार्यकर्ता द्वारा पोषण आहार के विषय में जानकारी दी गई। एनीमिया कुपोषण परियोजना से परियोजना समन्वयक शीतल मिश्रा द्वारा इस कार्यक्रम में एनीमिया के लक्षण, दुष्प्रभाव व रोकथाम हेतु तिरंगा भोजन व आईएफए टैबलेट सेवन की जानकारी दी गई। मिश्रा ने अवशोषण की जानकारी व वाश विषय पर बालिकाओं को जानकारी दी।
बडग़ांव एवं हिर्री में आयोजित पोषण माह के इस कार्यक्रम के आयोजन में पर्यवेक्षक बघेल व खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ उमेश डहाटे पूर्ण सहयोग रहा। जिससे यह आयोजन सफल रहा और किशोरी बालिकाओं के लिए बहुत ही उपयोगी रहा।