स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

महकेपार स्वास्थ्य केन्द्र के स्टाफ नर्स दो वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश

Bhaneshwar Sakure

Publish: Aug 22, 2019 21:22 PM | Updated: Aug 22, 2019 21:22 PM

Balaghat

बम्हनी, महकेपार के स्वास्थ्य केन्द्रों का कलेक्टर ने किया आकस्मिक निरीक्षण

बालाघाट. कलेक्टर दीपक आर्य ने जिले के पठार क्षेत्र में तिरोड़ी तहसील के ग्रामों के भ्रमण के दौरान ग्राम बम्हनी और महकेपार के स्वास्थ्य केन्द्रों का आकस्मिक निरीक्षण किया। वहां की व्यवस्थाओं को देखा। उन्होंने खैरलांजी तहसील के ग्राम अमई में स्कूल का भी निरीक्षण किया और बालाघाट जिले की अंतरराज्यीय सिंचाई परियोजना राजीव सागर बांध की स्थिति भी देखी।
कलेक्टर आर्य अचानक बम्हनी के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे तो वहां की व्यवस्थाओं को देखकर प्रसन्न हुए। केन्द्र में पदस्थ डॉक्टर भूपेन्द्र गजभिए मरीजों की जांच करते हुए मिले और अस्पताल परिसर पूरी तरह से साफ-सुथरा मिला। मरीजों को जांच के बाद दवाओं का वितरण भी किया जा रहा था। जानकारी लेने पर पता चला कि बम्हनी के डाक्टर गजभिए द्वारा स्वयं रूचि लेकर स्वास्थ्य केन्द्र के भवन में रंगाई पुताई करा कर उसे आकर्षक स्वरूप प्रदान किया गया है। कलेक्टर ने डॉ गजभिए द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र की व्यवस्थाओं को बेहतर बनाने और उन्हें मेंटेन रखने के लिए प्रशंसा की और कहा कि ऐसी ही व्यवस्था जिले के अन्य स्वास्थ्य केन्द्रों भी होना चाहिए और दूसरे केन्द्रों के चिकित्सकों को डॉ गजभिए से प्रेरणा लेना चाहिए।
कलेक्टर जब महकेपार के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे तो वहां पर उन्हें अव्यवस्थाएं देखने को मिली। स्वास्थ्य केन्द्र में मौजूद स्टाफ नर्स मोनिका भुजाड़े का इलाज के लिए आए मरीजों के प्रति व्यवहार भी संतोषजनक नहीं पाया गया। इस पर उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया है कि वे स्टाफ नर्स मोनिका भुजाड़े की दो वेतन वृद्धि रोकने की कार्रवाई करें।