स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सहकारी कर्मचारी ने समर्थन मूल्य पर धान खरीदी नहीं करने कलेक्टर से गुहार

Mahesh Kumar Doune

Publish: Sep 16, 2019 19:07 PM | Updated: Sep 16, 2019 19:07 PM

Balaghat

मध्यप्रदेश सहकारी कर्मचारी महासंघ के द्वारा वर्ष 2019-20 में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी नहीं करने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा।

बालाघाट. मध्यप्रदेश सहकारी कर्मचारी महासंघ के द्वारा वर्ष 2019-20 में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी नहीं करने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। इस संबंध में संगठन के जिलाध्यक्ष पीसी चौहान ने बताया कि जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित अंतर्गत कार्यरत १२६ सहकारी समितियों ने शासन की समर्थन मूल्य पर धान खरीदी का कार्य विगत कई वर्षो से किया जा रहा है। लेकिन धान खरीदी उपरांत संस्थागत कर्मचारियों को कई मुसीबतों का सामना करना पड़ता है। जिसके लिए शासन-प्रशासन द्वारा संस्थागत कर्मचारियों को सहयोग प्रदान न कर प्रताडि़त किया जाता है।
ये है समस्याएं
उन्होंने बताया कि विपणन संघ के द्वारा किए गए अनुबंध के अनुसार कार्य नहीं किया जाना। बराबर नापतौत करने के उपरांत भी डीएमओ गोदाम में बजन में अनावश्यक कमी बताना। जिससे समितियों को नुकसान उठाना पड़ रहा है। जिसका खामियाजा संस्थागत कर्मचारियों को भुगतना पड़ता है। धान खरीदी में मिलर्स के द्वारा फटे पुराने बारदाना प्रदाए करने से धान गिरने से नुकसान होना। धान खरीदी प्रारंभ होने के एक माह बाद परिवहनकर्ता नियुक्त होने से धान स्टॉक समिति में जमा रखना। परिवहनकर्ता द्वारा जानबूझकर रात में ट्रक लोड करना व ट्रक ले जाना। ट्रक चालक व परिचालक द्वारा रास्ते में हेरा फेरी कर बोरा बेचना, जिससे कमी होना। जिसका खामियाजा भी खरीदी प्रभारी को भुगतना पड़ता है।