स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

भरवेली टापर्स की जय, कटंगी को मात

Mukesh Yadav

Publish: May 23, 2018 16:51 PM | Updated: May 23, 2018 16:51 PM

Balaghat

केसीए क्रिकेट प्रशिक्षण शिविर का मैच, केसीए के संभव श्रीवास ने तेजी से बनाए 89 रन

कटंगी। कटंगी क्रिकेट संघ (केसीए) के ग्रीष्म कालीन क्रिकेट शिविर में अभ्यास मैच का सिलसिला सोमवार से शुरू हो चुका है। पहले दिन भरवेली टापर्स और केसीए के बीच अभ्यास मैच शासकीय उत्कृष्ट स्कूल खेल मैदान में खेला गया है। जिसमें विजय की शानदार बल्लेबाजी की बदौलत जवाबी पारी खेलने उतरी भरवेली टापर्स को शानदार जीत मिली। यह मैच केसीए और भरवेली टापर्स के मध्य खेला गया। जिला क्रिकेट संघ अध्यक्ष अनिल धुवारे, सचिव निशांत मिश्रा के निर्देशन एवं केसीए अध्यक्ष सुधीर शर्मा, उपाध्यक्ष विक्की शर्मा, सचिव सांकेत गुप्ता, कोषाध्यक्ष शैंकी अग्रवाल, निशांत सोनी के मार्गदर्शन पर इस अभ्यास मैच सत्र का शुभांरभ हुआ। सोमवार को अभ्यास मैच का शुभारंभ जनपद सदस्य अंजु विजय शर्मा के मुख्य आतिथ्य तथा पार्षद गायत्री ठाकरे, अधिवक्ता संजय खोब्रागढ़े की अध्यक्षता एवं समाजसेवी योगराज ठाकरे की उपस्थिति में हुआ।
पहले अभ्यास मैच में केसीए ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला लेते हुए 20 ओवरों में 189 रनों का विशाल स्कोर खड़ा कर भरवेली टापर्स को 190 रन बनाने की चुनौती दी। जवाबी पारी खेलने उतरी भरवेली टापर्स को मैच के अंतिम 20 वें ओवर में जीत हासिल हुई। इस अभ्यास मैच का आयोजन खेल प्रशिक्षक आशुतोष चतुर्वेदी, निशांत कामड़े के सफल नेतृत्व में किया गया।


24 घंटे का समय और फिर हड़ताल
कटंगी। वन विभाग के अधिकारी और कर्मचारी 24 मई से पुन: एक बार फिर से अपनी 19 सूत्रीय मांगों को लेकर अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जा सकते हैं। दरअसल, आज केबिनेट की बैठक थी। जिसमें वन विभाग की मांगों पर कोई चर्चा नहीं हुई। इस कारण मप्र वन कर्मचारी संघ के प्रांताध्यक्ष नरेन्द्र गौैतम, सुरेन्द्र पचौरे, प्रकाश वाजपेयी तथा महामंत्री आमोद तिवारी के निर्देशन पर प्रदेश के सभी वन कर्मचारी अनिश्चित कालीन हड़ताल पर बैठ सकते हैं। गौरतलब हो कि वन विभाग के अधिकारी और कर्मचारी 5 मई से ही अपनी मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने वाले थे। लेकिन लिखित आश्वासन के बाद यह हड़ताल स्थगित कर दी गई थी। यह हड़ताल मप्र वन कर्मचारी संघ के वन विभाग कर्मचारी/ अधिकारी संयुक्त समन्वय मोर्चे, वन सेवा संघ, रेंज आफीसर्स एसोसिएशन, मप्र वन कर्मचारी संघ और मप्र वन दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी संघ के तत्वाधान में होगी।
ब्लाक अध्यक्ष अमोल गौतम, उपाध्यक्ष सुनील परते, सचिव अभिषेक खरे ने संयुक्त रुप से जानकारी देते हुए बताया कि मप्र वन कर्मचारी संघ की प्रातीय कार्यकारिणी की आपात बैठक का आयोजन 20 मई को भोपाल में किया गया। जिसमें 56 वर्षो से मांग को लेकर आंदोलनरत कर्मचारियों की मांगों पर सरकार ध्यान नहीं दे रही है। इस विषय पर चर्चा की गई। उन्होंने बताया कि समस्त कर्मचारियों द्वारा 5 चरणों का चरणबद्ध आंदोलन किया गया। जिसमें 5 मई से समस्त वन कर्मचारी, स्थाई कर्मी, कम्प्यूटर आपरेटर, प्रबंधक, मानचित्रकार, लिपिक, लघु वेतन कर्मचारी अपने बस्ते जमा कर अनिश्चितकालीन आंदोलन में जाने वाले थे। लेकिन इस दौरान 4 मई को शासन से लिखित समझौता कर 15 दिवस में 19 सूत्रीय मांगों को निराकरण करने का आश्वासन दिया गया था। लेकिन समय बीतने के बाद भी मांग पर विचार नहीं किया गया। जिसके चलते पुन: 24 मई से सभी अनिश्चित कालीन हड़ताल पर जाने की तैयारी कर चुके हैं।