स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पेंड़ से लटका मिला ग्रामीण का शव, पत्नी ने लगाया हत्या का आरोप, मचा हड़कम्प

Neeraj Patel

Publish: Jul 15, 2019 20:02 PM | Updated: Jul 15, 2019 20:02 PM

Bahraich

- जिले में 35 वर्षीय युवक की संदिग्ध अवस्था में पेंड़ से लटकी मिली

- DCRB में जम्प मार रहा तावडतोड़ हत्याओं का सेंसेक्स

बहराइच. सीमावर्ती जिले बहराइच के हुजूरपुर इलाके में एक BJP नेता की हत्या का राज फाश हुआ नहीं कि थाना रिसिया इलाके में एक 35 वर्षीय युवक की संदिग्ध अवस्था में पेंड़ से लटकी मिली लाश की घटना से हड़कम्प मच गया है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पेड़ पर झूलती मिली लाश की घटना को जहां रिसिया थाने की पुलिस खुदकुशी बताकर अपना दामन बचाने की कोशिश में जुटी हुई है, वहीं मृतक की पत्नी (सुमन) इस वारदात को हत्या बता रही है।

ये भी पढ़ें - सहकारिता विभाग निभा रहा किसानों की आय वृद्धि मेें महत्वपूर्ण भूमिका

घटना थाना रिसिया क्षेत्र के बलभद्दरपुर गांव के मजरा पूरन पुरवा का है। जहां के रहने वाले 35 वर्षीय परशुराम की संदिग्ध मौत से जुड़ा हुआ है। परशुराम की लाश गांव के बाहर बाग में फंदे से लटकती हालत में बरामद हुआ है। पुलिस ने शव को उतार कर पोस्टमार्टम के लिए भेज मर्चरी भेजा है। बलभद्दरपुर के पूरन पुरवा निवासी परशुराम का शव भोर पहर गांव के बाहर आम के बाग में लटकता मिला है।जिस घटना से इलाके में हड़कम्प मच गया है।

पत्नी ने पुलिस को दी तहरीर

मृतक की पत्नी सुमन ने रिसिया पुलिस को जो तहरीर दी है उसने जमीन की खरीदारी को लेकर गांव के ही एक शख्स पर हत्या का आरोप मढ़ा है। मृतक की पत्नी ने बताया कि आरोपी उसके पति से एक बीघा जमीन के नाम पर डेढ़ बीघा जमीन का धोखा करके बैनामा करा लिया और अब जमीन का पैसा भी नहीं दे रहा। जब रुपयों की मांग की जाती तो आरोपी उसके पति को जान से मारने की धमकी दे रहा था। इस मामले में पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर ही कुछ भी बोलने की बात कह रही है।

ये भी पढ़ें - चोरी का खुलासा करने के लिये निर्दोष को उठा लाई पुलिस, अब छूट रहे पसीने

वहीं पीड़िता घटना को साफ साफ मर्डर बता रही है। अब देखना है कि PM रिपोर्ट में घटना का क्या राजफाश होता है। आपको बता दें कि बहराइच जिले में अपराध का ग्राफ बड़ी तेजी से फर्राटा भर रहा है, जिसका प्रमाण यही है कि बीते 6 माह के दौरान DCRB का अपराध रजिस्टर तवाड़तोड़ हत्याकांड की घटनाओं के आंकड़ों का सेंसेक्स पैमाने के बाहर जम्प मार रहा है।