स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अस्पताल में बढ़ रहा आउटडोर, जांच के लिए भटक रहे रोगी

Narottam Sharma

Publish: Oct 19, 2019 08:15 AM | Updated: Oct 19, 2019 00:00 AM

Bagru

मौसमी बीमारियों के चलते आउटडोर दिनोंदिन बढ़ रहा है। सुबह अस्पताल खुलते ही मरीजों की लंबी कतार लग जाती है, मरीज कई घंटों के बाद डॉक्टर तक पहुंच पाता है। अस्पताल में जांच की एक्स-रे सहित कई मशीन ताले में बंद हैं जिसके चलते मरीजों को निजी लैब पर जांच करानी पड़ती हैं।

सिंवारमोड़. सरकार व चिकित्सा विभाग बेहतर चिकित्सा सुविधाओं के लाख दावे करे लेकिन जमीनी हकीकत इनसे कोसों दूर है। इसकी बानगी है जयपुर शहरी क्षेत्र से सटे सिरसी के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की। जहां चिकित्सकों की कमी के चलते मरीजों को सुविधाओं का लाभ नहीं पा रहा। वहीं जांच मशीनें ताले में बंद पड़ी हैं। ऐसे में रोगियों व उनके परिजनों को जांच के लिए भटकना पड़ रहा है। सिरसी सीएचसी में चिकित्सकों का टोटा है। जबकि मौसमी बीमारियों के चलते आउटडोर दिनोंदिन बढ़ रहा है। सुबह अस्पताल खुलते ही मरीजों की लंबी कतार लग जाती है, मरीज कई घंटों के बाद डॉक्टर तक पहुंच पाता है। अस्पताल में जांच की एक्स-रे सहित कई मशीन ताले में बंद हैं जिसके चलते मरीजों को निजी लैब पर जांच करानी पड़ती हैं। मुख्यमंत्री नि:शुल्क जांच योजना के तहत 35 जांच नि:शुल्क हैं, लेकिन स्टाफ की कमी चलते केवल 15 जांचें ही यहां हो पाती हैं। कार्यरत डॉ. तरुण अरोड़ा ने बताया कि मौसमी बीमारियों के रोगियों की संख्या में इजाफा हो रहा है। करीब दो सप्ताह से आउटडोर 700—800 तक पहुंच रहा है। जिसमें वायरल से पीडि़त रोगियों की संख्या अधिक है।

सीएचसी में अभी यह स्टाफ
चिकित्साधिकारी डॉ. सुनील कुमार यादव, वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. एस.पी. सिंह, डॉ. तरुण अरोड़ा, डॉ. प्रवीण जोशी, डॉ. शोभित शिशु रोग विशेषज्ञ, आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ. नीलम चौधरी, होम्योपैथिक चिकित्सक डॉ. मंजू चौधरी, लेब टेक्नीशियन जगदीश प्रसाद को लगा रखा है।

सीएचसी के अधीन ये क्षेत्र आता है
नगर निगम के वार्ड 16 में रहने वाली 40 हजार की आबादी तथा वार्ड 17 में 35 हजार आबादी के अलावा निमेड़ा, मूण्डियारामसर, फतेहपुरा, बेगस, धानक्या, भम्भौरी, श्योसिंहपुरा, मांचवा, पीथावास, हाथोज पंचायतों सहित दर्जनों कॉलोनियों के बाङ्क्षशदों की सेहत सीएचसी पर आधारित है।

इसकी दरकार
कनिष्ठ विशेषज्ञ मेडिसन-01
स्त्री रोग विशेषज्ञ-01
चर्म रोग विशेषज्ञ-01
शिशु एवं बाल रोग विशेषज्ञ-01
वरिष्ठ फिजियशन अधिकारी-01
नेत्र विशेषज्ञ-01
नर्स प्रथम श्रेणी-02
नर्स द्वितीय श्रेणी-08
एएनएम-06
वार्डबॉय-06
सफाईकर्मी-03
एक्स-रे टेक्नीशियन-01
सीनियर लैब टेक्नीशियन-01
रेडियोग्राफर -01

इनका कहना है ..
हाल ही में कार्यभार संभाला है, फिलहाल यहां पीएचसी जितना स्टाफ है। अधिकारियों को अवगत करवा दिया है। स्टाफ आते ही एक्स-रे मशीन सहित अन्य जांचों को शुरू कराया जाएगा।

- डॉ. सुनील कुमार यादव, चिकित्सा प्रभारी, खंड प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सिरसी

सिरसी सीएचसी नेशनल अरबन हैल्थ मिशन के अंतर्गत है। इसमें स्टॉफ की नियुक्त होना बाकी है। पीएचसी को शिफ्ट कर उसका स्टॉफ लगा रहा है। स्टाफ की कमी के कारण जांचें नहीं हो पा रही।
- डॉ. नरोत्तम शर्मा, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जयपुर प्रथम