स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नेताजी बोले...‘सरकार हमारी तो विकास कार्यों का उद्घाटन भी हम ही करेंगे’

Ramakant Dadhich

Publish: Sep 19, 2019 23:38 PM | Updated: Sep 19, 2019 23:38 PM

Bagru

टै्रफिक लाइट की टेस्टिंग को 24 घंटे भी पूरे नहीं हुए थे कि कांग्रेस पार्षदों व कार्यकर्ताओं ने पूर्व विधायक भगवानसहाय सैनी के हाथों टै्रफिक लाइट का शुभारंभ करवा दिया।

चौमूं. शहर में जयपुर रोड पर बस स्टैण्ड के पास मोरीजा तिराहे पर लगाई गई टै्रफिक लाइट की टेस्टिंग को 24 घंटे भी पूरे नहीं हुए थे कि पिछली दो बार की तरह भाजपा इसका शुभारंभ नहीं कर दे। इसी के मद्देनजर आनन-फानन में विद्युत कनेक्शन करवाकर गुरुवार को कांग्रेस पार्षदों व कार्यकर्ताओं ने पूर्व विधायक भगवानसहाय सैनी के हाथों से टै्रफिक लाइट का शुभारंभ करवा दिया। वहीं पूर्व विधायक ने भी कहा कि सरकार हमारी है तो उद्घाटन भी हम ही करेंगे। वहीं दूसरी ओर विधायक, पालिकाध्यक्ष व भाजपा पार्षदों ने श्राद्ध पक्ष में टै्रफिक लाइट चालू करने की निंदा की है। सूत्रों की मानें तो नगरपालिका के नेता प्रतिपक्ष शैलेन्द्र चौधरी समेत अन्य कांग्रेसी पार्षदों ने दोपहर 12 बजे मीडियाकर्मियों को सूचना दी कि पूर्व विधायक सैनी के मुख्य आतिथ्य में बस स्टैण्ड पर मोरीजा तिराहे पर लगी टै्रफिक लाइट का शुभारंभ किया जाएगा। कुछ ही देर में पूर्व विधायक सैनी, एसडीएम हिम्मत सिंह, नेता प्रतिपक्ष, नगर कांग्रेस अध्यक्ष सुरेश विजयवर्गीय समेत अन्य पार्षद व कार्यकर्ता मौके पर पहुंच गए। इसके बाद पूर्व विधायक ने पैनल बोर्ड के स्विच दबाकर टै्रफिक लाइट का शुभारंभ किया। पूर्व विधायक ने कहा कि सरकार हमारी है तो विकास कार्यों का उद्घाटन हम ही करेंगे।
उन्होंने बताया कि पिछले कांग्रेस कार्यकाल 2008 से 2013 में जेडीए से रेनवाल अंडरपास स्वीकृत करवाकर बनवाया था, लेकिन विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लगने के कारण इसका उद्घाटन नहीं हो पाया था, जिसका उद्घाटन भाजपा सरकार में विधायक रामलाल ने करवाया था। सैनी ने लाइट लगवाने का श्रेय लेते हुए कहा कि लोकसभा चुनावों से पहले जेडीसी से मिलकर इसको स्वीकृत करवाया था, जिसका शुभारंभ कर दिया है। शुभारंभ के दौरान नगरपालिका की ईओ व पुलिस अधिकारी भी नहीं मौजूद थे। आनन-फानन में किए गए उद्घाटन के दौरान पेनल बोर्ड के सहारे ही जमीन रखा गया।

अध्यक्ष को भनक तक नहीं लगने दी
जेडीए की टै्रफिक लाइट का कनेक्शन पालिका प्रशासन को करवाना था। सूत्रों की मानें तो कांग्रेसियों ने सुनियोजित तरीके से ईओ एवं कर्मचारियों से विद्युत कनेक्शन की फाइल को तैयार करके बुधवार को ही निगम कार्यालय में सौंप दी, जहां प्रक्रिया पूरी करके गुरुवार को कनेक्शन कर दिया गया। खास बात ये है कि इसकी सूचना पालिकाध्यक्ष तक को नहीं लगने दी। पालिकाध्यक्ष ने इस बारे में बताया है कि अब से पहले जो भी कनेक्शन हुए हैं, उनमें उनके हस्ताक्षर होते थे, लेकिन इस बार जान-बूझकर उनको नहीं बताया गया।


भाजपाई बोले श्राद्ध पक्ष में की चालू
विधायक रामलाल शर्मा व पालिकाध्यक्ष ने कहा है कि पूर्व विधायक भयभीत थे कि कहीं विधायक व पालिकाध्यक्ष शुभारंभ नहीं कर दे। यही मानकर श्राद्ध पक्ष में टै्रफिक लाइट का शुभारंभ आनन-फानन में कर दिया, जबकि कांग्रेसी चाहते तो इसका शुभारंभ नवरात्र में भी कर सकते थे। उन्होंने कहा कि अब पूर्व विधायक, सरकार से बीसलपुर परियोजना एवं जयपुर से गोविन्दगढ़ तक मेट्रो टे्रन के कार्य का भी शिलान्यास करवाएं।


ये रहे मौजूद
पार्षद मुजाहिद खान, फिरोज नागौरी, मेहराज खान, कमल भातरा, आशीष यादव, जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष राजकुमार शर्मा, पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष के.के. जोशी, नानगराम लांबा, दौलतसिंह मीणा, कमल सिंह यादव, संतोष सैनी, फिरोज नागौरी, मेहराज शाह, मुजाहिद खान, राजेन्द्र सैनी, महेश यादव, गिरिराज देवंदा आदि मौजूद थे।