स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सैकड़ों जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र अटके, रोष

Dinesh prashad Sharma

Publish: Sep 11, 2019 23:55 PM | Updated: Sep 11, 2019 23:55 PM

Bagru

सैकड़ों जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र अटके, रोष
नगरपालिका चौमूं का मामला: कर्मचारी रिटायर्ड होने के बाद आई समस्या


चौमूं. नगरपालिका कार्यालय चौमूं में एक लिपिक के सेवानिवृत्त होने के बाद से जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र एवं विवाह पंजीयन प्रमाण पत्र जारी करने का काम ठप हो गया है। स्थिति ये है कि सैकड़ों प्रमाण-पत्रों के नहीं बनने से जरूरतमंद लोग पालिका कार्यालय के चक्कर पर चक्कर काट रहे हैं, लेकिन आजकल-आजकल ही हो रहा है। इसे लेकर लोगों में रोष है।
जानकार सूत्रों के अनुसार नगरपालिका प्रशासन की ओर से जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र एवं विवाह पंजीयन प्रमाण पत्र को जारी करने के लिए रजिस्ट्रार का कार्य यहां कार्यरत मुनमुन शर्मा को सौंपा हुआ था, लेकिन वे ३१ अगस्त को सेवानिवृत्त हो गई। इसके बाद से ये प्रमाण पत्र जारी होना बंद हो गए हैं। सूत्रों की मानें तो पहले इसकी जिम्मेदारी नगरपालिका प्रशासन ने मुनमुन के स्थान पर इस कार्य को कनिष्ठ लिपिक कविता यादव को रजिस्ट्रार संबंधी कार्य सौंपा गया है, लेकिन अब तक रजिस्ट्रार संबंधी प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाई है, जिससे ६०० से अधिक जन्म प्रमाण पत्र एवं ३०-३० मृत्यु एवं विवाह प्रमाण पत्र नहीं बन पा रहे हैं। सूत्रों ने बताया कि जब तक रजिस्ट्रार के ऑनलाइन हस्ताक्षर नहीं होंगे, तब कम्प्यूटर से प्रमाण पत्रों के प्रिंट जारी नहीं किए जा सकते हैं। इसे लेकर रोजाना कार्यालय में बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं, लेकिन जिम्मेदार कार्मिक आजकल-आजकल कहकर बैरंग लौटा रहे हैं। इससे जरूरतमंद लोगों में रोष है। इधर, जानकारों का कहना है कि जब पालिका प्रशासन को पूर्व में ही पता था कि संबंधित कार्मिक सेवानिवृत्त होने वाला है तो फिर उसी दौरान यह व्यवस्था क्यों नहीं की गई, जिससे ये नौबत ही नहीं आती। (का.सं.)
इनका कहना है
तकनीकी कारणों के चलते जन्म-मृत्यु एवं विवाह पंजीयन प्रमाण पत्र नहीं बन पा रहे हैं। गुरुवार को इस कार्य को प्राथमिक से करवाकर प्रमाण पत्रों के पिं्रट जारी करवाए जाएंगे।
सरिता, अधिशासी अधिकारी नगरपालिका चौमूं