स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

करौली, सवाईमाधोपुर सहित पूर्वी राजस्थान में 14-15 अगस्त को भारी बारिश की चेतावनी

Narottam Sharma

Publish: Aug 12, 2019 22:29 PM | Updated: Aug 12, 2019 22:29 PM

Bagru

Heavy rain warning :— प्रदेश के कई बांधों व तालाबों में बनी हुई है पानी की आवक। पूर्वी राजस्थान के कुछ जिलों को है अभी भी बारिश का इंतजार। मौसम विभाग ने पूर्वी राजस्थान में 14 व 15 अगस्त को भारी बारिश की (Heavy rain warning in eastern Rajasthan on 14-15 August) चेतावनी दी है। सोमवार को भी दिनभर राजधानी सहित आसपास के क्षेत्र में बारिश का दौर जारी रहा। राजधानी में अपरान्ह चार बजे बाद हुई छितराई (Scattered rains after four o'clock) बारिश।

जयपुर. प्रदेश में पिछले कई दिन से कहीं तेज तो कहीं मध्यम दर्जे की बारिश जारी है। इससे प्रदेश के कई बांधों व तालाबों में पानी की आवक भी बनी हुई है। वहीं भीलवाड़ा सहित आसपास के क्षेत्र में तेज बारिश होने से कई जिलों की लाइफ लाइन कहे जाने वाले बीसलपुर बांध में भी पानी की आवक जारी है। सोमवार को मौसम विभाग ने पूर्वी राजस्थान में 14 व 15 अगस्त को भारी बारिश की चेतावनी दी है। सोमवार को भी दिनभर राजधानी सहित आसपास के क्षेत्र में बारिश का दौर (Rainy season) जारी रहा। राजधानी में भी अपरान्ह चार बजे से छितराई बारिश का दौर शुरू हुआ जो शाम तक जारी रहा। हालांकि पूर्वी राजस्थान के करौली सहित कई जिलों में अभी भी तालाबों, बांधों में पानी की आवक नहीं के बराबर है। यदि ऐसे में पूर्वी राजस्थान में तेज बारिश होगी तो बांधों में पानी आने के साथ किसानों को भी फायदा होगा।

ये हैं पूर्वी राजस्थान के जिले

भरतपुर, धौलपुर, करौली, सवाईमाधोपुर, बारां, कोटा और झालावाड़

बीसलपुर बांध का बढ़ रहा गेज

टोंक जिले की लाइफ लाइन कहे जाने वाले बीसलपुर बांध (Bisalpur Dam) के केचमेंट एरिया में पडऩे वाले भीलवाड़ा जिले से सोमवार को हुई बारिश के चलते बनास नदी पर स्थित त्रिवेणी का गेज एक बार फिर पांच सेमी की बढ़ोत्तरी के साथ 1.75 चल पड़ा है। त्रिवेणी से हो रही बांध में पानी की आवक से बांध के गेज में बढ़ोत्तरी जारी है। बांध के कन्ट्रोल रूम के अनुसार रविवार शाम 8 बजे बांध का गेज 310.13 आर एल मीटर दर्ज किया गया था, जो सोमवार देर शाम आठ बजे तक 12 सेमी की बढ़ोत्तरी के साथ ही 310.25 आर एल मीटर दर्ज किया गया है।

पिछले साल ऐसा था हाल

बीसलपुर बांध का गेज गत वर्ष 30 सितम्बर को भी 310.24 आर एल मीटर दर्ज किया गया था। इसी प्रकार बांध का गेज गत वर्ष के गेज के बराबर होने से आगामी बारिश के मौसम तक पेयजल समस्या से निजात की सम्भावना पूरी हो चुकी है। बांध परियोजना के सहायक अभियंता मनीष बंसल ने बताया कि बांध में सोमवार तक 11.2 टीएमसी पानी का भराव हो चुका है जिसमें कुल जलभराव का लगभग 28 प्रतिशत पानी भर चुका है। वहीं मानसून सत्र के अभी 49 दिन शेष है।