स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

आस्था परवान पर : गणेश जी की जय-जयकार तो कहीं बाबा परशुरामपुरी का गुणगान

Narottam Sharma

Publish: Sep 11, 2019 19:06 PM | Updated: Sep 11, 2019 19:06 PM

Bagru

Faith on God : श्री गणेश सेवा समिति के तत्वावधान में हुआ आयोजन। आरती के दौरान बड़ी संख्या में श्रद्धालु गणेशजी की झांकी के दर्शनार्थ पहुंचे। गुरुवार को होगा समापन। वहीं उदयपुरिया में आस्था का केंद्र बाबा परशुरामपुरी Baba parshurampuri के दो दिवसीय मेले का बुधवार को कलशयात्रा के साथ आगाज हुआ।

सामोद. श्री गणेश सेवा समिति के तत्वावधान में मुख्य बाजार सामोद में चल रहा गणेश महोत्सव Ganesh Festival परवान पर है। बुधवार शाम आरती के दौरान बड़ी संख्या में श्रद्धालु गणेशजी की झांकी के दर्शनार्थ पहुंचे। इस दौरान गणेश जी के भजनों पर श्रद्धालु झूम उठे। चारों तरफ भक्तिमय माहौल हो गया। प्राचीन गणेश मंदिर पुजारी धर्मा महाराज ने बताया कि गणेशजी की झांकी सजाई गई। पूजा अर्चना के बाद कलाकारों ने भगवान गणेश के मनोहारी भजन प्रस्तुत Presented beautiful hymns किए। बुधवार को भी मंदिर परिसर में दिनभर पूजा-पाठ कार्यक्रम किए गए। समिति उपाध्यक्ष कल्याण सहाय ने बताया कि ग्यारह दिन चलने वाले गणेश महोत्सव का समापन शोभायात्रा के साथ गणेश मूर्ति को नगर भ्रमण करवाकर रामसागर में मूर्ति विसर्जन Idol immersion के साथ गुरुवार को किया जाएगा। इस दौरान सामोद सरपंच दिनेश चतुर्वेदी, पूर्व सरपंच भगवान सहाय सैनी, पूर्व पंसस कल्याण सहाय गुर्जर, शंकरलाल चतुर्वेदी, बाबूलाल सैनी समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।

कलशयात्रा में उमड़ा श्रद्धा का सैलाब

उदयपुरिया. कस्बे में आस्था का केंद्र बाबा परशुरामपुरी के दो दिवसीय मेले का आगाज Opening of the fair बुधवार को कलशयात्राओं के साथ हुआ। क्षेत्र के विभिन्न मंदिरों एवं ढाणियों से डीजे की मधुर स्वर लहरियों के बीच ग्रामीण नाचते-गाते एवं महिलाएं मंगल कलशधारण कर मुख्य मार्गों से होते हुए कलशयात्रा के रूप में बाबा परशुराम पुरी महाराज मंदिर पहुंचे। मंदिर महंत भगवानपुरी एवं नृसिंह पुरी ने कलशयात्रा को विधिवत पूजा-अर्चना कर रवाना किया। इस दौरान ग्रामीणों ने पुष्प वर्षा की। क्षेत्र के उदयपुरिया मोड़, राम तलाई चिमनपुरा मोड़, बाग महादेव भोमपुरा, काकोडिय़ा की ढाणी, डाबड़ों की ढाणी, हीरामल कांकड़ वाली ढाणी, तेजाजी मंदिर हाडोता लिंक रोड, डागरों की ढाणी सरपंच वाली से कलश यात्राएं मंदिर पहुंची, जहां श्रद्धालुओं ने बाबा परशुरामपुरी की झांकी के दर्शन कर सुख-समृद्धि की कामना की। इसके बाद मंदिर में पंगत प्रसादी का आयोजन हुआ।