स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

UP: पकड़ा गया शातिर बदमाश धमेंद्र यादव, महाराष्ट्र और हैदराबाद में कई वारदातों में रहा है शामिल

Akhilesh Kumar Tripathi

Publish: Sep 18, 2019 16:34 PM | Updated: Sep 18, 2019 16:34 PM

Azamgarh

2015 में भी हो चुकी है गिरफ्तारी, कई मुकदमों में था वांछित

आजमगढ़. शहर कोतवाली की पुलिस को मंगलवार को बड़ी कामयाबी हासिल हुई। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने सिधारी थाना क्षेत्र के पहलवान तिराहे के पास से 50 हजार के इनामी अंतर्राज्यीय बदमाश धमेंद्र यादव को चोरी की बाइक व तमंचा के साथ गिरफ्तार किया। उक्त बदमाश ने यूपी ही नहीं बल्कि महाराष्ट्र और हैदराबाद में कई घटनाओं को अंजाम दिया है।


प्रभारी निरीक्षक कोतवाली अनिल कुमार सिंह को जरिये मुखबिर सूचना मिली कि कई मुकदमों में वांछित सिधारी थाना क्षेत्र के गेलवारा गांव निवासी 50 हजार का इनामियां धर्मेन्द्र उर्फ उदयी यादव पुत्र रामा उर्फ रामायण यादव चोरी की मोटरसाइकिल व अवैध असलहे के साथ शहर की तरफ जा रहा है। वह बाइक को बेचने की फिराक में है।


कोतवाली पुलिस और प्रभारी निरीक्षक सिधारी ने पहलवान तिराहे के पास घेरेबंदी कर धमेंद्र को धर दबोचा और उसके पास से चोरी की बाइक और एक अदद तमंचा .315 बोर व 01 अदद जिन्दा कारतुस .315 बोर बरामद किया।

पुलिस अधीक्षक प्रो. त्रिवेणी सिंह ने बताया कि धर्मेन्द्र उर्फ उदयी यादव एक शातिर किस्म का अपराधी है। गिरोह बनाकर चोरी करना व जानलेवा हमला करना इसका पेशा बन गया है। धर्मेंद्र वर्ष 2015 में अपराध जगत में आया। तीन जनवरी 2015 को सिधारी में अपने साथी जितेन्द्र यादव के साथ गिरफ्तार हुआ। जिसके कब्जे से चोरी का रूपया बरामद हुआ था। उसके बाद 2016 में वह चोरी की संपत्ति के साथ दोबारा गिरफ्तार हुआ। न्यायिक अभिरक्षा से जिला कारागार आजमगढ़ से जमानत पर रिहा होने पर बाहर भाग गया था। यह बात सामने आयी कि मुंबई व हैदराबाद में भी उसने कई घटनाओं को अंजाम दिया है। उसपर 50 हजार का इनाम घोषित किया गया था।

BY- RANVIJAY SINGH