स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पत्रिका इम्पैक्ट: जागी सरकार, आजमगढ़ में लगेगा कूड़ा निस्तारण प्लांट

Mohd Rafatuddin Faridi

Publish: Nov 18, 2019 15:51 PM | Updated: Nov 18, 2019 15:51 PM

Azamgarh

कूड़ा निस्तारण प्लांट लगवाने के लिए भूमि की तलाश की जा रही है। जल्द ही प्रक्रिया पूरी कर प्लांट की स्थापना करायी जाएगी।

आजमगढ़. आखिरकार शहर के लोगों को दुर्गंध से छुटकारा मिल ही गया। पत्रिका द्वारा शहर का कूड़ा शहर में फेंकने और लाखों लोगों की जिंदगी खतरे में डालने की खबर प्रकाशित करने के बाद जिला प्रशासन की नीद खुल गयी है। नगर पालिका ने बंधे के पास से कूंडा हटाकर दूसरी जगह डंफ करना शुरू कर दिया है। इससे लोगों को राहत मिली है। वहीं जिलाधिकारी ने इस ममाले में संबंधित विभाग के मंत्री से बात कर कूड़ा निस्तारण की स्थाई व्यवस्था करने का प्रस्ताव भेजा है। अगर डीएम के प्रस्ताव पर सरकार मुहर लगाती है और कूड़ा निस्तारण के लिए भूमि का प्रबंध कर अपशिष्ट निस्तारण की व्यवस्था हो जाती है तो लोगों को हमेशा के लिए जहमत से छुटकारा मिल जाएगा।


बता दें कि जिले में कूड़ा निस्तारण की व्यवस्था न होने के कारण शहर से निकले वाला कचरा बंधों के किनारे फेंका जा रहा था। जिसके कारण प्रदूषण का स्तर लगातार बढ़ रहा है। वायु की गुणवत्ता पर काम करने वाली संस्था क्लाइमेट एजेंडा यहां तक दावा कर चुकी है कि आजमगढ़ में प्रदूषण का स्तर दिल्ली से भी अधिक है। इसके बाद भी अधिकारी इस समस्या के प्रति गंभीर नहीं है। पत्रिका ने मामले की गंभीरता और आम आदमी की दुश्वारियों को देखते हुए 12 नवंबर के अंक में खबर प्रकाशित की।


इसके बाद प्रशासन जागा और जिलाधिकारी नागेंद्र प्रसाद सिंह ने नगर विकास मंत्री से बात कर स्थिति से अवगत कराया गया। शासन की तरफ से हरी झंडी मिलने के बाद उन्होंने नगर पालिका प्रशासन से तत्काल कूड़ा निस्तारण के लिए प्लांट का प्रस्ताव बनाकर देने का निर्देश दिया है। उसके बाद नगर पालिका प्रशासन प्रस्ताव बनाने में जुटा हुआ है। वहीं बंधे के किनारे फेंके गए कूड़े को उठाकर पूर्व में चिन्हित किए गए स्थान मझगांवा में फेकवाना शुरू कर दयिा है। कुछ कूड़े को गड्ढे में दबवा दिया गया है। कूड़ा हटने से लोगों को काफी राहत मिली है। नगर पालिका ईओ शुभनाथ का कहना है कि बरसात के कारण कूड़ा बंधे किनारे फेंका जा रहा था लेकिन अब उसे हटवा दिया गया है। कूड़ा निस्तारण प्लांट लगवाने के लिए भूमि की तलाश की जा रही है। जल्द ही प्रक्रिया पूरी कर प्लांट की स्थापना करायी जाएगी। जिलाधिकारी नागेंद्र प्रसाद सिंह का कहना है कि नगर पालिका का कूड़ा निस्तारण सबसे बड़ी समस्या है। जहां भी कूड़ा फेंका जा रहा है, वहां बदबू से आस-पास के लोगों का रहना मुश्किल हो गया है। ऐसे में बिना प्लांट के कूड़े का निस्तारण संभव नहीं है। जल्द ही नगर पालिका कूड़ा निस्तारण प्लांट के लिए जमीन चिह्नित कर लेगी। शासन से हरी झंडी मिल चुकी है। भूमि मिलते ही कूड़ा निस्तारण यंत्र लगवाया जाएगा।

By Ran Vijay singh

[MORE_ADVERTISE1]