स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रोडवेज में लगा रहने दीजिये गंदगी का अंबार, मंत्री का करीबी है सफाई ठेकेदार

Mohd Rafatuddin Faridi

Publish: Jan 21, 2020 18:37 PM | Updated: Jan 21, 2020 18:37 PM

Azamgarh

हर महीने सफाई पर होता है 40 हजार रूपये खर्च।

आजमगढ़. रोडवेज निर्माण में 14 करोड़ खर्च हुए और अब उसकी सफाई पर हर महीने 40 हजार रूपये खर्च हो रहे है। शौचालय की साफ-सफाई के लिए अलग से कर्मचारी रखे गए है लेकिन यहां सफाई की हालत बद से बदतर है। ठेके के कर्मचारी भवन तक की सफाई नहीं कर पा रहे है।

 

परिसर में जगह-जगह कूड़े का ढेर लगा है। पॉलीथिन व कागज के टुकड़े परिसर में फैले रहते हैं। कई बार कहने के बाद भी परिसर में झाड़ू नहीं लगता है। सफाई के लिए दबाव बनाने पर क्षेत्रीय प्रबंधक के पास मंत्री का फोन आने लगता है। बताया जाता है कि जिस ठेकेदार ने स्टेशन परिसर की साफ-सफाई का ठेका लिया है वह किसी मंत्री का खास है और लखनऊ में रहते हुए अपने व्यक्तियों से काम करवाता है।

 

बता दें कि रोडवेज परिसर व भवन की साफ-सफाई लिए सुबह, दोपहर व शाम तीनों टाइम निर्देश दिया गया है। ठेकेदार द्वारा आठ सफाई कर्मियों को ठेके पर रखा गया है। वेतन समय से न मिलने पर कोई सफाई कर्मी बराबर सफाई नहीं करता है। प्रति सफाई कर्मी को तीन हजार रुपये मानदेय मिलता है, वह भी तीन से चार माह तक मानदेय नहीं मिलने की वजह से कई सफाई कर्मी काम छोड़कर चले गए। हालत यह है कि सफाई व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो गयी है।

 

इस स्टेशन से प्रतिदिन 82 बस आजमगढ़ डिपो, 72 बस डा. आंबेडकर डिपो की संचालित होती है। इसके अलावा मऊ, बलिया, गोरखपुर, वाराणसी व प्रयागराज सहित अन्य डिपो से 300 से 350 बसों का आवागमन आजमगढ़ स्टेशन पर होता है। यात्रियों को खाने-पीने की सुविधा के लिए कैंटीन भी स्टेशन परिसर में खुल गई है। बसों के आवागमन से स्टेशन परिसर में कुछ न कुछ गंदगी होती रहती है। समय से सफाई न होने से गंदगी फैल जाती है। इससे यात्री परेशान है लेकिन विभाग पर कोई असर नहीं हो रहा। क्षेत्रीय प्रबंधक पीके तिवारी का कहना है कि परिसर में गंदगी फैली रहती है। जब फटकार लगाओ तभी सफाई होती है, जबकि सुबह, दोपहर व शाम तीनों टाइम सफाई करने का निर्देश दिया गया है। चेतवानी का भी कोई असर नहीं है।

By Ran Vijay Singh

[MORE_ADVERTISE1]