स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मो. साकिर व उसकी बेटी की निर्मम हत्या मामले में बड़ा खुलासा, इस वजह से हुई थी हत्या

Akhilesh Kumar Tripathi

Publish: Oct 21, 2019 20:09 PM | Updated: Oct 21, 2019 20:09 PM

Azamgarh

आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त फावड़ा भी बरामद कर लिया

आजमगढ़. मुबारकपुर थाना क्षेत्र में पिता व मासूम पुत्री की हत्या का पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए हत्यारे सौतेले पिता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उसकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त फावड़ा भी बरामद कर लिया गया है। पुलिस अधीक्षक का दावा है कि हत्या भूमि विवाद के कारण हुई है।


मुबारकपुर थाना क्षेत्र के मदारपुर गांव में 19 अक्टूबर की रात में पिता मोहम्मद साकिर और उसकी पांच वर्षीय पुत्री की फावड़े के प्रहार से निर्मम तरीके से हत्या कर दी गयी थी। जबकि इस हमले में पत्नी गंभीर रूप से घायल हुई थी। पुलिस ने परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने फरहान को गिरफ्तार कर लिया और उसके घर से दो दर्जन मोबाइल फोन बरामद किया था।

पुलिस इस घटना की छानबीन कर रही थी कि पता चला कि मृतक का पिता रमजान अली मूलतः वाराणसी जिले के लोहता थाना क्षेत्र के महमूदपुर के निवासी हैं, पहली पत्नी के निधन पर उन्होंने दूसरी शादी कर ली थी। इसी बीच साकिर चोरी करने लगा। वाराणसी पुलिस ने दर्जनों बार साकिर को चोरी के आरोप में जेल भेजा था। जिसके बाद पुलिस से परेशान उसके पिता रमजान अली आजमगढ़ के मुबारकपुर कस्बे में अपने परिवार के साथ रहने लगे तो साकिर भी अपने परिवार के साथ यहीं रहने लगा। साकिर अपने पिता से वाराणसी की जमीन में हिस्सा चाहता था। इसको लेकर वह कई बार अपने पिता से मारपीट कर चुका था। इसी को लेकर पिता ने रमजान अली ने अपने बेटे और पोती की हत्या कर दी जबकि बहू गंभीर रूप से घायल है।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि घटना के बाद जैसे ही पुलिस पहुंची, परिजनों ने फरहान सहित दो पर आरोप लगाया। पुलिस ने फरहान को गिरफ्तार कर लिया। यह भी चोर था इसके घर से दो दर्जन मोबाइल फोन बरामद हुआ था। लेकिन जब जांच आगे बढ़ी तो पिता ही हत्यारा निकला।

BY- RANVIJAY SINGH