स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

योगी सरकार के खिलाफ धरना दे रहे किसानों के लिए खुद भाजपा वाले सड़क पर उतर आये, किसानों का सपोर्ट किया

Ashish Kumar Shukla

Publish: Aug 18, 2019 20:10 PM | Updated: Aug 18, 2019 20:10 PM

Azamgarh

भाजपा के कई नेताओं ने किसानों की मांग पर सहमति जताते हुए उस धरने का सपोर्ट किया

आजमगढ़. ऐसा अक्सर होता है कि कोई भी राजनीतिक दल किसानों को अपना मोहरा समझती है। जब तक सत्ता से बाहर रहते हैं सभी नेता किसानों के भलाई की बात करते हैं लेकिन सत्ता मिलते ही वो किसानों से किये वादे और दावे भूल जाते हैं। लेकिन इस सब से हटकर आजमगढ़ जिले में ऐसा पहली बार हुआ जब मुआवजा बढ़ाने के लिए धरना दे रहे किसानों को विपक्ष के साथ ही सत्ता पक्ष का भी साथ मिल गया। यहां भाजपा के कई नेताओं ने किसानों की मांग पर सहमति जताते हुए उस धरने का सपोर्ट किया।

जी हां गोरखपुर लिक एक्सप्रेस-वे में अधिग्रहित भूमि का मुआवजा एनएच-233 के समान मुआवजे को लेकर अतरौलिया क्षेत्र गदनपुर तिराहे पर अनिश्चितकालीन धरना शुरू हो गया है। किसानों ने सरकार पर मनमानी का आरोप लगाते हुए जमकर नारेबाजी की। किसानों की संख्या को देखते हुए मौके पर अतरौलिया, कप्तानगंज व तहबतपुर थाने पुलिस दिन भर मौके पर पहुंच गयी। सपा सहित कई राजनीतिक दलों ने किसानों के आंदोलन को समर्थन दिया।
किसानों का आरोप है कि गोरखपुर लिक एक्सप्रेस वे में जिन किसानों की भूमि जा रही है, उन्हें भूमि अधिग्रहण नियम 2013 के तहत मुआवजा नहीं दिया जा रहा है। इसी मांग को लेकर किसानों का अनिश्चित कालीन धरना शुरू हो गया है।

किसानो का आरोप है कि जब सपा की सरकार थी तो एनएच-233 का निर्माण हुआ और उसमें किसानों की भूमिका हाईवे के रेट के अनुसार कम से कम सात लाख से लेकर 12 लाख रुपए तक का मुआवजा दिया। आज सरकार तानाशाही पर उतर आई है और किसानों की कीमती भूमि कौड़ियों के भाव खरीदना चाहती हैं। इस धरने को जहां सपा के विधायक संग्राम सिंह यादव समेत जिले के कई दलों के नेताओं का समर्थन मिला तो वहीं भाजपा के कन्हैया निषाद, भारतीय जनता पार्टी के ही नेता और जिला पंचायत सदस्य वीरेंद्र पांडेय देवनारायण मिश्रा समेत कई भाजपा के स्थानीय पदाधिकारियों ने पहुंचकर अपनी सरकार और पार्टी लाइन से इतर किसानों की मांग को अपना समर्थन दिया। कहा कि हर हाल में किसानों की मांग को सरकार पूरा करे।

ऐसे ही समाजवादी प्रगतिशील पार्टी के मंडल अध्यक्ष फैजाबाद फूलचंद यादव, आजमगढ़ जिलाध्यक्ष रामप्यारे यादव, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के वेद प्रकाश उपाध्याय, पतिराम यादव ने भी मौके पर पहुंचकर किसानों को उचित मुआवजा देने की मांग की। उप जिलाधिकारी बूढ़नपुर दिनेश मिश्रा व सीओ शीतला प्रसाद पांडेय ने किसानों को समझाने का प्रयास किया लेकिन बात नहीं बनी।